नेपालगन्ज में जेष्ठ नागरिकों को सम्मान तथा अभिभावक शिक्षा पर जोड

नेपालगन्ज,(बाके) पवन जायसवाल, आषाढ १३ गते ।
बाके जिला के टिटिहिरिया गाबिस के ३० लोग जेष्ठ नागरिकों को एक एक कार्यक्रम के बीच में आषाढ १२ गते को सम्मान किया गया है ।
टिटिहिरिया गाविस के आर्थिक सहयोग तथा बास के आयोजन में गाबिस के ३० लोग जेष्ठ नागरिकों का सम्मान किया गया है । ९ वार्ड के जेष्ठ नागरिकों को टर्च लाईट, मच्छरदानी (झूल एक÷एक थान प्रदान करके सम्मान किया गया है ।

2
सम्मान कार्यक्रम में नेपाली का“ग्रेस के भग्गन थारु, नेकपा एमाले के प्रेम के.सी, राप्रपा के रामचरण थारु, नेकपा माओवादी केन्द्र के लोक बहादुर शाही, टिटिहिरिया गाविस के खरिदार निम बहादुर थापा लगायत जेष्ठ नागरिकों को सम्मान किया गया है ।
सम्मानितों में सत्य नारायण थारु, खेमसरा खत्री, शान्ति गुरुङ, कौशिला बि.क., चौधरी मंगता, बराती भा“ट, बीर बहादुर घर्तीमगर, बिर्मा देवी मल्ल ठकुरी, पानसरा शाही लगायत रही है ।
कार्यक्रम में गाविस के खरिदार नीम बहादुर थापा ने स्वागत किया था, बास के केन्द्रीय सदस्य ध्रुवजँग शाह ने धन्यवाद ज्ञापन किया था , एमाले के गा“व कमिटि अध्यक्ष प्रेम के.सी ने दलों के ओर से शुभकामना मन्तव्य व्यक्त किया था । कार्यक्रम बास के कार्यकारी निर्देशक नमस्कार शाह ने सञ्चालन किया था ।
इसी तरह आज ही जिला जन स्वास्थ्य कार्यालय, बा“के और बास के संयुक्त आयोजन में बागेश्वरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की सामाजिक परीक्षण कार्यक्रम सम्पन्न किया है और महादेवपुरी गाविस के सहयोग में बास ने महादेवपुरी में लागु पादर्थ बिरुद्ध गाविस स्तरिय अन्र्तक्रिया कार्यक्रम सम्पन्न किया है बास के सूचना अधिकारी हेमराज भट्ट ने जानकारी दी है

नेपालगन्ज,(बाके) पवन जायसवाल, २०७३ आषाढ १३ गते ।
बाके जिला के नेपालगन्ज में बिद्यार्थियों को नैतिकवान बनाने के लिये अभिभावक शिक्षा में जोड देने के लिये एक कार्यक्रम के सहभागी शिक्षकों ने जोड दियें है ।
सदाचार प्रबद्र्धन में सामाजिक शिक्षकों की भुमिका बिषयक आषाढ १३ गते सोमवार को नेपालगन्ज में सम्पन्न अभिमुखीकरण कार्यक्रम में सहभागी सामाजिक शिक्षकों ने यह बातों पर जोड दियें है । बिद्यालय और अभिभावक बीच की दूरी घटा सके तो बिद्यार्थियों को सदाचार की रास्ते की ओर ले जाने में सहज होगी उन लोगों की जोड थी ।
अभिमुखीकरण कार्यक्रम में बोलते हुये बा“के के जिला शिक्षा अधिकारी भिम बहादुर साउद ने सदाचार तथा सुशासन की बातों को गम्भीर रुप में लेने के लिये शिक्षकों को निर्देशन दिया । माध्यमिक बिद्यालय की पाठ्य पुस्तकों में थोडा सामाग्री रही है और वह प्रयाप्त न होन की कारण शिक्षकों ने थप सामाग्री जुटाकर बिद्यार्थियों की मानसिकता में प्रष्टता लाने के लिये अनुरोध किया ।

2
कार्यक्रम में बोलते हुये सहभागी आदर्श उच्च माध्यमिक बिद्यालय रा“झा के सामाजिक शिक्षक नोखीराम लामिछाने ने आधुनिक शिक्षा के बारे में जानकारी नही दे पाने से समस्याए“ आयी है बताया । इसी तरह दूसरे सहभागी शिक्षक धम्बोझी उच्च माध्यमिक बिद्यालय के सामाजिक शिक्षक दोर्ण बहादुर वली ने नीचे की कक्षा से ही नैतिक शिक्षा लागू होने में जोड दिया । श्री जय जनता माध्यमिक बिद्यालय बिथपुवा के रामबहादुर पाण्डे ने अभिभावक शिक्षा में जोड देने के लिये बताया ।
इसी तरह युद्ध संस्कृत माध्यमिक बिद्यालय के निर्मला केसी ने बिद्यार्थियों को नैतिकवान बनाने के लिये शिक्षकों को व्यवहारिक बनना आवश्यक है धारणा रक्खी , त्रिभुवन उच्च माध्यमिक बिद्यालय कोहलपुर की लक्ष्मी कुमारी हमाल ने शिक्षको ने सुचना की पहुंच बढाने पर जोड दिया । आगामी दिनों में बिद्यालय में सुशासन की बिषय को महत्व के साथ आगे बढाने पर उन लोगों ने प्रतिबद्धता ब्यक्त किया ।
बास के कार्यक्रम अधिकृत हेमराजभट्ट ने सहजीकरण किया था अभिमुखीकरण में सुशासन, सदाचार तथा बिद्यार्थी और शिक्षकों ने पालना करने वाली काम कर्तव्य के बारे में बास के कार्यकारी निर्देशक नमस्कार शाह ने प्रश्तुतीकरण किया था । बास के मध्यपश्चिमाञ्चल उपाध्यक्ष छवीलाल सुनार ने खुला छलफल किया था अभिमुखीकरण की समापन जिला शिक्षा अधिकारी तथा कार्यक्रम के अतिथि भिम बहादुर साउद ने किया था ।

Loading...
%d bloggers like this: