नेपालगन्ज में ड्राइविंग लाइसेन्स खुला, दो पुलिस सहित १६ बर्खास्त

नेपालगंज,२४ असोज | एक बर्ष से रुका सवारी चालक अनुमतिपत्र (लाइसेन्स) बितरण का कार्य कल्ह से शुरु हो गया है । भेरी यातायात ब्यवस्था कार्यालय, नेपालगन्ज मे पिछले साल असार १८ गते हुई अनियमितता के कारण वितरण का काम रोक दिया गया था | अख्तियार दुरुपयोग अनुसन्धान आयोग द्वारा विशेष अदालत मे मुकदमा दायर किया गया था | रुका हुआ सवारी चालक अनुमतिपत्र (लाइसेन्स) वितरण प्रक्रिया पुन: सोमबार से शुरू हुआ है ।
बड़े सवारी साधन और इ–रिक्सा के लिए कल्ह से सवारी चालक अनुमतिपत्र (लाइसेन्स) बितरण पक्रीया शुरु होने की जानकारी कार्यालयने दी है ।
सवारी चालक अनुमतिपत्र (लाइसेन्स) नयाँ और थप वर्ग (सी) टेम्पो, अटोरिक्सा, ई—रिक्सा, थप वर्ग (एफ,जी) मिनी बस, मिनी ट्रक, बस, ट्रक, लहरी और थप वर्ग मेसनरी सवारी साधनो ( एच,आई,जे) के तरफ आवेदन शुरु हो गया है यातायात ब्यवस्था कार्यालय ने जानकारी दी है।

यातायात व्यवस्था कार्यालय भेरी के १६ कर्मचारी के विरुद्ध ड्राईभिङ लाइसेन्स परीक्षा मे घोटाला का आरोप लगाकर अख्तियार दुरुपयोग अनुसन्धान आयोग ने विशेष अदालत मे मुक्दमा दायर किया था | पिछले साल कार्तिक ५, ६, ७ और ८ गते हुुआ चार चक्का की सवारी लाईसेन्स की लिखित परिक्षा के नजिता प्रकाशन मे अनियमितता के कारण अख्तियार ने मुकदमा दायर किया था । उस परीक्षा मे कुल १२ हजार ६ सय ३१ परीक्षार्थी सहभागी हुए थे और लिखित परीक्षा मे ९ हजार ४ सय ९ पास हुआ था ।
परीक्षा मे कुल ४६५ परीक्षार्थी प्रयोगात्मक परीक्षा मे पास हुुए थे | लेकिन परिक्षा समिति के चैत ७, १२ और १३ गते की बैठक ने फेल हुए परीक्षार्थीयों को भी सवारी चालक अनुमतिपत्र (लाइसेन्स) देनेका निर्णय किया था । उस घोेटाले मे संलग्न १६ कर्मचारी को भ्रष्टाचार निवारण ऐन, २०५९ के दफा १३ बमोजिम कसूर कहकर अख्तियार ने मुकदमा दायर किया था ।

पुुलिस निरीक्षक और पुलिस नायब निरीक्षक बरखास्त

अदालत ने सवारी चालक अनुमतिपत्र मे करोडो रुपिये का घोटाला होने का आरोप लगाया था |  उसी आरोप में तत्कालिन यातायात ब्यवस्था कार्यालय भेरी के १४ कर्मचारी और जिला ट्राफिक पुलिस कार्यालय बाँके मे कार्यरत तत्कालिन पुलिस निरिक्षक सहित दो पुलिस निलम्बन हुए थे ।
जिला ट्राफिक पुलिस कार्यालय बाँके के तत्कालीन पुुलिस निरीक्षक बिमल कुमार उपाध्यय और पुलिस नायब निरीक्षक दिपेन्द्र बहादुर सिंह अदालके फेसले के बाद पद से बर्खास्त हुए थे ।
यातायात ब्यवस्था कार्यालय भेरी के तत्कालिन प्रमुख तथा उपसचिब पवन सुबेदी , शाखा अधिकृत सिताराम खनाल, बिष्णु सहनी, देबराज पोख्रेल, मेकानिकल ईन्जिनियर अर्जुन कुमार चौधरी, धु्रब प्रसाद सापकोटा, नायव सुब्बा ललित बहादुर ओली, केशब डाँगी, होताराज पौडेल, षडानन्द उपाध्य, अरुण कुमार गौतम, डिल्लीराज खरेल, ओम बहादुर बस्नेत और गणेशमान आचार्य भी पद से बर्खास्त हुए हैै ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: