नेपालगन्ज में पारिवारिक सुख, शान्ति और सद्भाव के लियें सेमिनार

3नेपालगन्ज, (बाँके) पवन जायसवाल, भाद्र १० गते ।
युनिभर्सल पीस फेडरेशन–नेपाल, सिद्धान्त अनुसन्धान महाविद्यालय संघ, विश्व शान्ति तथा एकीकृत परिवार संघ–नेपाल द्वारा संयुक्त रुप में नेपाजगन्ज मे रविवार को मौलिक अलौकिक सिद्धान्त सम्बन्धित पाँच दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया ।
कार्यक्रम में  विभिन्न धर्म के धर्म गुरुओं ने सभी धर्म का प्रमुख लक्ष्य मानव मात्र का कल्याण और रक्षा करने से ही विश्व में सुख, शान्ति फैलाने से संक्रमणकालिन अवस्थाओं से गुजर रहा नेपाल जैसे देश में शान्ति, आपसी सद्भाव,भातृत्व की भावनाओं का विकास और स्नेहपूर्ण अभियान से ही सकारात्मक परिवर्तनों में सहयोग पहुँने में विचार व्यक्त किया ।
पाँच दिवसीय वृहद् सेमिनार रविवार को उद्घाटन करते हुयें उन लोगों ने ऐसा  कार्यक्रम में सिखकर ज्ञान को सदुपयोग करके परिवार, समाज और राष्ट्र में शान्ति स्थापना करने में योगदान देने के लिये सभी सहभागियों को  आग्रह किया ।307
मौलिक अलौकिक सिद्धान्त सम्बन्धि पाँच दिवसीय वृहद् सेमिनार में आयोजित सेमिनार के विशिष्ट अतिथियों ने हिन्दू धर्म गुरु तथा अन्तरधार्मिक सद्भाव संघ नेपालगन्ज के अध्यक्ष चन्द्र नाथ योगी, मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना अब्दुल जब्बार मन्जरी, वौद्ध धर्म के  धर्म गुरु गुण बहादुर लामा, क्रिश्चियन धर्म के प्रतिनिधि डक्टर प्रसाद धिताल और कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि युनिभर्सल पीस फेडरेशन के सल्लाहकार चेरेसिया किटेलद्वारा फूल के गमला में जल अर्पण और धार्मिक मन्त्रोच्चारण करके विधिवत रुप में  कार्यक्रम का उद्घाटन किया ।1
उसी अवसर में सभी धर्म के  गुरुओं ने सभी धर्म का प्रमुख लक्ष्य मानव मात्र का कल्याण और रक्षा करना विश्व मे सुख शान्ति फैलाने का ही रहा है संक्रमणकालिन अवस्था ओं गुजर रहा नेपाल जैसा देश में शान्ति, आपसी सद्भाव, भातृत्व की भावनाओं का विकास और स्नेहपूर्ण अभियान से ही सकारात्मक परिवर्तनों में मात्र सहयोग पहुँचेगा विचार व्यक्त किया ।
कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि युनिभर्सल पिस फेडरेशन के सल्लाहकार अष्ट्रिया के नागरिक श्रीमती चेरेसिया किटेल ने सच्चा प्रेम, परिवार और समाज में शान्ति, अन्तर धार्मिक एकता, आपसी सद्भाव तथा आध्यात्मिक चिन्तनों के लियें  मौलिक अलौकिक सिद्धान्त के  बारे में गहन बातचित होने में जानकारी देते हुयें सेमिनार  के समय में पूरा समय देकर अपनों को सकारात्मक परिवर्तन के रास्ते में आगे  बढने के लियें सभी  सहभागियों से अनुरोध किया ।
कार्यक्रम में अध्यक्ष के आसन से यु.पी.एफ.बाके के शान्ति परिषद के संयोजक वरिष्ठ पत्रकार पूर्ण लाल चुके ने विश्व शान्ति और विश्व वन्धुत्व का भावना जागृत करने और सन्देश फैलाने  वाले युनिभर्सल पीस फेडरेशन के संस्थापक स्वर्गीय डा. सन म्योड्ड मुन और श्रीमती हाक जा हान मुनको ने  विश्व में शान्ति स्थापना करके विश्व एक घर, विश्वभर का ब्यक्ति एक परिवार’ कहकर महान उद्देश्य पूरा करने के लियें सेमिनार का सहभागीयों ने अपने–अपने क्षेत्रों से योगदान देने के लियें जोड दिया ।
उन्हेंने शान्ति का पहला पाठशाला परिवार ही है कहते हुयें परिवार को मजबूत  बनाने के लियें पूर्विय दर्शन से प्रेरित पारिवारिक मूल्य और मान्यता अनुसार सभी व्यक्ति को चलने के विचार व्यक्त किया ।
कार्यक्रम में पीस एम्बेस्डर श्रीमती लता शर्मा, रण प्रसाद राना, सिद्धान्त अनुसन्धान महाविद्यालय संघ के अध्यक्ष प्रकाश थापा, युनिभर्सल पीस फेडरेशन–नेपाल राष्ट्रिय तालिम केन्द्र के निर्देशक काशीनाथ खनाल लगायत लोगों ने अपना– अपना विचार ब्यक्त किया था ।
पाँच दिवसीय सेमिनार में मध्य तथा सुदूर पश्चिमाञ्चल विकास क्षेत्र के अन्तर्गत बाँके, जुम्ला, कालीकोट, मुगु, दैलेख, सुर्खेत, कैलाली,दाड्ड आदि जिला से २ सौ १५ लोग युवा तथा महिलाए की उत्साहजनक सहभागिता रही है ।
सेमिनार में युनिभर्सल पीस फेडरेशन के सल्लाहकार चेरेसिया किटेल,सिद्धान्त अनुसन्धान महाविद्यालय संघ के अध्यक्ष प्रकाश थापा, युनिभर्सल पीस फेडरेशन–नेपाल राष्ट्रीय तालिम केन्द्र के निर्देशक काशीनाथ खनाल, क्षेत्रीय संयोजक रुप सिंह भण्डारी और संस्था के अन्तर्राष्टीय प्रतिनिधि डिभाइन चानस और भण्डारी ने सहजकर्ता का भूमिका निर्वाह कर रहे है । कार्यक्रम का संचालन भी संस्था के क्षेत्रीय संयोजक रुप सिंह भण्डारी ने ही  किया था ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: