नेपालगन्ज में व्यवस्थापन गोष्ठी

???????????????????????????????नेपालगंज,(बाके) पवन जायसवाल, २०७२ आषाढ १७ गते ।
नेपाल रेडक्रस सोसाइटी बाके जिला शाखा के आयोजन में उप–शाखा व्यवस्थापन गोष्ठी आषाढ १४ गते सोमवार को नेपालगन्ज में सम्पन्न हुआ है ।
नेपाल रेडक्रस सोसाइटी बा“के जिला शाखा के सभापति गोवर्धन सिंह सम्झना ने उप–शाखाए की क्षमता विकास के लियें विभिन्न कार्यक्रमों के मार्फत दक्ष बनाने की कार्य निरन्तर हो रही है बताते हुयें रेडक्रस के स्वयंसेवकों ने रेडक्रस का आधारभूत सिद्धान्तों को आत्मसाथ करके कार्य करने के लियें आग्राह किया । नेपाल सरकार के सहयोगी निकाय के रुप में रहा रेडक्रस अन्तिम अवस्था तक सरकार को सहयोग करने की बात बताया ।
उन्हँें न कहा भविष्य में प्रभावित समुदाय को राहत वितरण करना पडा तो दाताओं ने दिया खाद्य, गैर खाद्य बस्तुओं का गुणस्तर चेक जा“च करके ही केवल वितरण करने के लियें बताया ।
नेपाल रेडक्रस सोसाइटी बाके जिला उप–सभापति सुश्री शान्ति श्रेष्ठ ने कहा बा“के जिला में १४ उपशाखाए“ की अनुगमन निरीक्षण व्यवस्थित बनाने की बात बतायी ।
गोष्ठी में बि.सं.२०७१ के बाढ विपद् प्रतिकार्य की पाठ सिखाई, समस्याए“, सर्वेक्षण, राहत वितरण, समन्वय और संचार के बारे में उप–शाखा से प्रस्तुती, घरधुरी विस्तृत DSC08162सर्वेक्षण फाराम की अभ्यास, उप–शाखा की अनिवार्य बैधानिक दायित्व और दृश्यात्मक एकरुपता सम्बन्धी विषय में जानकारी कराया गया था ।
गोष्ठी के अधिकांश सहभागीयों ने बि.सं.२०७१ मे बाढ प्रभावितों को सर्वेक्षण करने से कम समय होने के नाते कठिनाई हुआ बताते हुयें बि.सं.२०७२ में होने वाला सम्भावित बाढ प्रभावित समुदाय की घरधुरी सर्वेक्षण करने के लियें परिचालन होनेवाला टोली को प्रयाप्त समय देने की बातों पर जोड दिया ।
गोष्ठी में जिला शाखा कार्यसमितिका पदाधिकारी, सदस्य, १३ उपशाखाए“ के सचिव और विपद् व्यवस्थापन समिति के संयोजक एवं सदस्यों की सभागिता रही थी ।
नेपाल रेडक्रस सोसाइटी बा“के शाखा के उप–सभापति सुश्री शान्ति श्रेष्ठ के सभापतित्व में सम्पन्न कार्यक्रम में सुरेन्द्रनाथ सापकोटा, मन्त्री अजीज अहमद सिद्दिकी, कोषाध्यक्ष टंकनाथ दाहाल, उपकोषाध्यक्ष राकेशबहादुर श्रीवास्ताव, सदस्य सनतकुमार रेग्मी, नरेन्द्रकुमार पौडेल, राजकुमार वर्मा, दुःखीराम लोनिया, यज्ञनारायण शर्मा र यमनारायण महतो लगायत लोगों की सहभागिता रही थी गोष्ठी में सहजीकरण शाखा के बरिष्ठ अधिकृत दोलखबहादुर डा“गी, प्रशासन अधिकृत निरञ्जना मल्ल और प्रहलाद विश्वकर्मा ने किया था ।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz