नेपाली संसद में भारत विरोधी आवाज, दोक्लाम चीन की भूमि होने का दावा video सहित

 
काठमाडौं | चीन अब केवल दोक्लाम में ही नही नेपाल में भी अपना एजेंट को पूर्णत: भारत के विरोध में परिचालित कर रहा है | नेपाल की लिपूलेके के बारे कोई चर्चा नही उठी लेकिन दोक्लम से भारतीय सेना हटाने की नेपाली संसद में मांग की  गई है |

दोक्लाम प्रकरण को लेकर भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव के विषय अब नेपाल की व्यवस्थापिका संसद में पुनः एक बार  प्रवेश पाया है  ।

आइतबार को संसद के विशेष समय में बोलते हुये नेपाल मजदुर किसान पार्टी की सांसद अनुराधा थापामगर ने दोक्लाम को चीन की  भुमी बता दिया | उन्होंने  भारतीय सेना को अविलम्ब फिर्ता करने की माग कर डाली ।

उनका आरोप था कि अमेरिकी साम्राज्यवाद एसिया में तीसरा  विश्वयुद्ध  कराने की योजना बना रही है और भारत उसका कठपुतली बना हुआ है |



संसद थापा ने कहा कि चीन अपना ही भू भाग में सडक निर्माण कर रहा है , पञ्चशील के सिद्धान्त विपरित भारतीय सेना चीन की भूभाग में पहुंचा है जिसके कारण दोनों  देश के बीच तनाव उत्पन्न हो गया है । थापा का कहना था कि दोक्लाम प्रकरण में चिनियाँ अडान उचित है  ।

सांसद थापा ने  दक्षिण एसिया दादागिरी नही करने को भारत से आग्रह किया | सभी से  मैत्रीपूर्ण सम्बन्ध रखने को भारत को उन्होंने सुझाव दिया।

इससे पहले एमाले सांसद युवराज ज्ञवाली ने दोक्लम प्रकरण को  संसद में उठाया था । उन्होंने  नेपाल को साझा धारणा बनाने पर जोड़ दिया था  ।



loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz