पीएम ओली की हवा हवाई

बिम्मीशर्मा:जिस को घर या समाज में कोई काम नहीं होता वह हवाईकिले बना कर ही अपना समय बिताता है । शायद इसीलिए उखानों के सम्राट हमारे महान प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली आजकल हवाई किले बना कर जनता को खुश कर रहे हैं । पीएम ओली ने देश से अंधकार

देश से लेडसेडिगं हटाने मै हूँ आया, कालाबजारी को मैंनें ही अपने शासनकाल मेंं बढ़वाया मैं करने आया हूं मधेशियों का सफाया, देश में संविधान की बिजली गिराकर मैंने ही सब चौपट करवाया, कहते है मुझको सभी पीएम केपी शर्मा ओली भाया ।।।।
हटाने का बीड़ा उठा लिया है । इसीलिए कभी पानीे से, कभी सूरज से तो कभी हवा से बिजली निकाल कर लोडसेडिगं हटाने का सगर्व भाषण देते हैं । पर यह लोडसेडिंग कैसे और किस तरह से हटेगा यह पीएम ओली को भी नहीं पता ।
बोलने में किसी के बाप का क्या जाता है ? इसीलिए पीएम ओली बोलते रहते हैं ताकि जनता इसी में उलझीं रहे । पीएम ओली ने अपने बचपन में कुछ ज्यादा ही हवा मिठाई खा लिया था शायद । इसीलिए हवा से बिजली उत्पादन कर के लोडसेडिगं हटाने का हवाई गप सबको बेच रहे हैं । जब देश में उर्जा के प्रमुख स्त्रोत के रूप में पानी का अथाह भंडार है । इसका समुचित प्रयोग करना तो दूर की बात पीएम ओली सोलार और हवा से बिजली निकालने की बात करते हैं । ऐसा है तो हाइड्रो पावर के लिए दिए गए सभी लाईसेंस रद्ध करवाईए । और सभी तेज बहाववाले नदी, नाले को बंद कराइए ताकि वह बहे न । अब जब इन नदी नालों का काम ही नहीं है तो ।
अब तो हवा से उड़ते हुए अपने आप घरों मे बिजली आ जाएगी । सूरज की किरणें अब तनमन को गर्म करने की बजाय बिजली बरसाएगी जिसे बिजली के पोल में जमा कर के सभी के घर–घर में ले जाया जाएगा और सभी के घर से अंधकार मिटेगीं । वाह१ क्या बढ़ीया बात है ? पर इस के लिए पैसे कहां से आएँगें । इस हवाई किले को बनाने और पूरा करने में भी जनता को ही बलि का बकरा बनाया जाएगा । विभिन्न बहाने सें टेक्स इतना बढ़ाया जाएगा कि जनता की सांस की हवा ही निकल जाएगी । फिर भी देश और जनता के जीवन से अविछिन्न रुप से जुड़ा लोडसेडिगं हटेगा नहीं । पहले अपने नेता और कार्यकताओं के कमीशन के लिए वक्त, बेवक्त खुलने वाले मुँह को तो टालो ।
हमारे देश में चूईंगम और नेता मीत जैसे ही हैं । चूईंगम चबाते चबाते खत्म नहीं होता और नेताओं के आश्वासन का भंडार भी कभी खत्म नहीं होता । नेताओं को देख कर ही चूंईगम का आविष्कार किया गया होगा ?हमारे पीएम ओली भी भानुमती का पिटारा खोल कर आश्वासन बांट रहे हैं । उनकी अपनी पार्टी के कार्यकता खुश है ओली के करतब और तमाशे से । पर जनता हैरत में है कि देश में अभावों का मौसम चल रहा है, मंहगाई सगरमाथा के शिखर पर पहुंच गई है पर यह पीएम ओली नाम का बंदर उछलकुद करने से बाज नहीं आता । इसीलिए तो कहते “बंदर बुढा भले हो जाए पर गुलाटी मारना नहीं भूलता” । पीएम ओली के बुढ़ापे की गुलाटी से देश के नागरिकों का मुफ्त मे मनोरंजन हो रहा है । नहीं तो पेट में दाना नहीं है, अभावों के इस कालरात्री मे जी रहे नागरिकों को हंसने का मौका कहां से मिलेगा ? सिनेमा के टिकट भी महंगे हो गए है । इसीलिए हर दिन टीभी, रेडियो, पत्रिका और अनलाईन पर पीएम ओली का भाषण देख, सुन और पढ़ कर हंसी से लोटपोट हो जाओ । यह सरकार तेल और गैस भले न दें जनता को पर “लाफिगं गैस” जरुर देगी वह भी फ्री में ।
जिस दिन पीएम ओली ने वहाँ से बिजली निकाल कर भी देश से एक साल में लोडसेडिंग हटाने का दावा किया उसी दिन इतफाक से हमारे पड़ोसी देश भारत में आणविक उर्जा से बिजली उत्पादन करने के लिए कनाडा से करोड़ों टन यूरेनियम आयात किया गया । यह विडंबना ही है कि हमारे देश के पीएम बिजली उत्पादन को भी हवाई किले बनाने जैसा सोच कर हवा गप देते हैं और हमारे पड़ोसी देश में आसन्न उर्जा संकट को हटाने के लिए आणविक भट्टी का निर्माण किया जा रहा है । और हमलोग आकाश, पाताल एक करने की हवा गप को सच मान रहे हैं ।
अरे भारत तो हमारा दुश्मन देश है, उस से मुकाबला या तुलना करना हमारी तौहीन है । इस से हमारा राष्ट्रवाद आत्महत्या कर लेगा और देशप्रेम मुँह छुपा कर रोने लगेगा ?भले भूकंप पीड़ितों के काटे पर खुद एमाओवादी और उसके नाते, रिश्तेदार पीड़ित बन कर चीन भ्रमण में चले जाएं । इस से हमारे राष्ट्रवाद में आंच नहीं आएगा । नेकपा एमाले के नेता गणों को अख्तियार द्धारा भ्रष्टाचार की काली सूची मे शामिल कर उनकी संपति छानवीन करना यह ओली के देशप्रेम और राष्ट्रवाद की बेइज्जती है । ओली कोे देश से ज्यादा अपने देह से प्रेम हैं । इसीलिए तो दूसरे का किडनी उधार ले कर अपनी जिन्दगी बसर कर रहें है । पीएम ओली ज्यादा बकबक मत करिए और हवा गपभी मत फेकिंए । नहीं तो आपकी किडनी में ही हवा घुस जाएगी और लेने के देने पड़ जाएँगें ।
राजनीति गप से नहीं चलती । पूर्व निर्धारित योजना और उस को कार्यान्वयन करने से चलती है । तास का महल बना कर आजतक कोई उस मे बैठ नहीं पाया है । इसीलिए पीएम ओली सपने देखिए और कल्पना भी कीजिए । पर वही सपना देखिए और दिखाईए जो पूरे हो सके । जिस कल्पना को मूर्त रूप दिया जा सके उसी की कल्पना करें । नहीं तो आप औंधे मुँह गिरिएगा और किसी को दिखाई और सुनाई नहीं देगा । वर्षो पहले एक फिल्म आई थी मिस्टर इडिंया । उस फिल्म में नायिका श्रीदेवी ने एक गाने पर डांस किया था । अब यह गाना श्रीओली को समर्पित है ।
देश से लेडसेडिगं हटाने मै हूँ आया,
कालाबजारी को मैंनें ही
अपने शासनकाल मेंं बढ़वाया
मैं करने आया हूं मधेशियों का सफाया,
देश में संविधान की बिजली गिराकर
मैंने ही सब चौपट करवाया,
कहते है मुझको सभी
पीएम केपी शर्मा ओली भाया ।।।।

Loading...
%d bloggers like this: