प्रदेश नं. ३ का स्थायी मुकाम काठमांडू उपत्यका में सम्भव नहींः मुख्यमन्त्री पौडल

हेटौडा, १० अप्रिल । प्रदेश नं. ३ के मुख्यमन्त्री डोरमणि पौडेल ने कहा है कि काठमांडू उपत्यका में प्रदेश नं. ३ का स्थायी मुकाम किसी भी हालात में सम्भव नहीं है । उनका कहना है कि अगर इस बात के लिए कोई लांबिङ करते हैं तो उस को स्वीकार नहीं किया जाएगा । मंगलबार हेटौडा में आयोजित एक कार्यक्रम को सम्बोधन करते हुए उन्होंने यह बात कहा है ।
मुख्यमन्त्री पौडेल ने कहा कि काठमांडू उपत्यका के बदले अन्य स्थानों में अगर प्रस्ताव आता है तो, उसमें विचार–विमर्श किया जा सकता है । कार्यक्रम में उन्होंने कहा– ‘केन्द्र मुकाम में ही हर तरह की सुविधा स्थापित करनी है तो संघीयता की कोई भी अर्थ नहीं है । व्यक्तिगत रुप में तो मैं हैटौडा से अयन्त्र ले जाने की पक्ष में नहीं हूं । स्थायी राजधानी भी हेटौडा ही होगी ।’


मन्त्री पौडेल ने कहा है कि निकट भविष्य में ही काठमांडू से हैटौडा आने के लिए सिर्फ एक घण्टा लगनेवाला है । सुरुङमार्ग निर्माण संबंध प्रसंग को उल्लेख करते हुए उन्होंने आगे कहा– ‘हम लोग पूर्वाधार विकास में लग रहे हैं । केन्द्रीय राजधानी प्रवेश के लिए अलग–अलग सडक निर्माण और तीव्र गति में स्तरोन्नती के लिए काम हो रहा है ।’

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: