प्रधानमन्त्री देउवा का भारत भ्रमण : देखिए ऐसा है एजेण्डा

काठमांडू, २६ श्रावण । नेपाल के प्रधानमन्त्री शेरबहादुर देउवा (भाद्र ७ गते, सम्भावित थिति) भारत भ्रमण में जा रहे हैं । इसकी तैयारी भी नेपाल सरकार कर रही है । हर बार जब नेपाल के प्रधानमन्त्री भारत जाते हैं, कोई न कोई खास चर्चा होती ही रहती है । इस बार भी समय से पहले ही प्रधानमन्त्री देउवा का भारत भ्रमण के सम्बन्ध में चर्चा–परिचर्चा शुरु होने लगा है । विशेषतः भारत भ्रमण का एजेण्डा क्या है ? इसी विषयों को लेकर यहां चर्चा होने लगा है । भ्रमण के लिए नेपाल सरकार के तरफ से प्रारम्भीक एजेण्डा भी तैयार हो चुका है । प्राप्त सूचना के अनुसार प्रधानमन्त्री देउवा के पास कोई खास नयां एजेण्डा नहीं है । अधिकांशतः पुराने ही एजेण्डा को लेकर वे भारत भ्रमण में जा रहे हैं । हां, निर्वाचन के लिए भौतिक सामाग्रियो में सहयोग लगायत कुछ नये एजेण्डा भी हैं ।
भ्रमण के दौरान प्रधानमन्त्री शेरबहादुर देउवा अपने भारतीय समकक्षी नरेन्द्र मोदी तथा भारत सरकार के अन्य प्रतिनिधियों से उल्लेखित (नीचे) विषयों में बातचीत करेंगे, लेकिन उल्लेखित विषय तथा एजेण्डा का अंतिम स्वरुप तैयार नहीं हुआ है । प्रारम्भीक छलफल के चरण में ही हैं ।
ऐसा है एजेण्डा
१. निर्वाचन के लिए आवश्यक भौतिक सामाग्री तथा सैन्य सामाग्री खरीद में सहयोग ।
२. युरिया खाद आपूर्ति ।
३. पञ्चेश्वर परियोजना और लाभ बाँडफाँड ।
४. प्रतिबंधित हजार और पाँच सौ के नोटों का सटही ।
५. नेपाली एलपिजी बुलेट को भारतीय बाजार में खुला प्रवेश का अनुमति ।
६. जनकपुर, नेपालगंज, महेन्द्रनगर से एयर इन्ट्री का अनुमति और विराटनगर तक जहाज लाने का प्रस्ताव ।
७. भारतीय बाजारों में नेपाली उत्पादनों का सहज पहुँच ।
८. पशुपतिनगर–सुकियापोखरी नाका सञ्चालन ।
९. वीरगञ्ज–कोलकाता–हल्दिया रेल मार्ग में सहजीकरण ।
१०. इनर्जी बैंक निर्माण ।
११. बुटवल–गोरखपुर ४०० केभी सीमापार विद्युतीय प्रसारण लाइन निर्माण में भारतीय ।
१२. हेटौडा–इनरुवा डबल सर्किट विद्युतीय सबस्टेशन निर्माण के लिए ५ करोड ५० लाख अमेरिकी डॉलर बराबर का अनुदान सहयोग ।
१३. लुकी–बरेली ४०० केभी प्रसारण लाइन निर्माण के लिए सहयोग
१४. भारत द्वारा प्रस्तावित ५५ करोड अमेरिकी डॉलर की सहुलियत ऋण तथा उससे निर्माण होने वाला १७ सड़कों में नेपाली ठेकेदार सम्बन्धी सर्त संशोधन ।
१५. मिड करिअर डिप्लोम्याट के लिए क्षमता अभिवृति तालिम सम्बन्धी प्रस्ताव ।
१६. वार्षिक दो लाख टन युरिया, एक लाख टन डीएपी, ५० हजार टन पोटास आपुर्ति के लिए आग्रह । और नेपाल में युरिया खाद्य प्लान्ट स्थापना सम्बन्धी प्रस्ताव ।
१७. विपी कोइराला प्लानेटेरियम के लिए विज्ञान प्रदर्शनी हल, वैज्ञानिक उपकरण, कर्मचारी तालिम, पावर बैंक आदि निर्माण के लिए सहयोग ।
१८. नेपाल–भारत सीमाओं की डुबान क्षेत्र का संयुक्त अनुमगन और पुराने सहमति का कार्यान्वयन ।
१९. भूकंप से क्षतिग्रस्थ स्कूल, स्वास्थ्य संस्था, सांस्कृतिक संपदा पुननिर्माण के लिए सहुलित ऋण सम्बन्ध में हस्तक्षर ।
२०. पञ्चेश्वर परियोजना के संबंध में थप विचार–विमर्श ।
२१. नेपाल–भारत ऊर्जा व्यापार सम्झौता कार्यान्वयन ।
२२. कोसी सम्झौता कार्यान्वयन में जोड़ ।
२३. धनगढी में टेक्निकल इन्स्टिच्युट स्थापना सम्बन्धी प्रस्ताव ।
२४. धनगढी–गौरीफन्टा नाका सहज सञ्चालन और अध्यागमन, भंसार, क्वारेन्टाइन कार्यालय स्थापना सम्बन्धी प्रस्ताव ।
२५. महाकाली और गण्डक संधी सम्बन्धी कुछ बातें ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: