प्रधानमन्त्री V/S रामचन्द्र पोडेल भिडन्त

श्री रामचन्द्र पोडेल ने प्रधानमन्त्री बाबुराम भट्टराइ की ओर हाथ दिखाते हुऐ कुछ यूँ कहा ‘मै जानता हूँ कि आप बिल्कुल ही संविधान ड्राफ्ट होने देना नहीं चाहते हैं’। देखने योग्य बात यह थी कि दोनो मे हाथापाई नही हुई बाँकी सभी बातें हुई। यह रोचक घटना शुक्रवार मई ११ को प्रचण्ड के नयाँ बंगला मे हुई जहाँ कुछ नेपाली कांग्रेश तथा ए-माले के नेतागण आपसी मतभेद शान्त करने बैठे थें ।
नेपाली कांग्रेश के अध्यक्ष शुशील कोईराला ने अपने विचार मे संबिधान संशोधन के लिए तुरन्त सान्सदparliyament की वैठक बोलाने की मांग रखी। इसपर प्रधानमन्त्री बाबुराम भट्टराइ ने क्रोधित होकर पहले आपसी मतभेद को सुलझाये जाने की बात रखते हुए आपस की मतभेद को शिघ्र अन्त करके तब parliyament बुलाने की बात काह डाली ।
प्रधानमन्त्री बाबुराम भट्टराइ के इस humiliating expressions को देख कर श्री रामचन्द्र पोडेल ने कहा (भईगो) अब मै समझ गया की प्रधानमन्त्री संविधान बनाने के पक्ष मे नहीं है ओर आप संविधान नही बनने देना चाहते हैं। पोडेल का ईसार था की आप भारत की दाबाव पर चलरहे हैं। इस तरह दोनो मे मोखिक युद्ध चलता रहा ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: