प्रसिद्ध बुद्ध मंदिर गंगटाेक

टसुक ला-खांग मोनेस्ट्री

बुद्ध के मानने वालों के लिए गंगटोक काफी महत्‍वपूर्ण धार्मिक स्‍थल है। यह मठ गंगटोक सिटी से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह गंगटोक के शाही परिवार का निजी गोंपा था। आज यहां बौद्ध शिक्षा ग्रहण करने दूरदराज से छात्र आते हैं। यहां पर कई बौद्ध उत्‍सव बड़े धूम-धाम से मनाए जाते है, जिनमें बौद्ध भिक्षु नकली चेहरा पहन कर छाम नृत्य करते हैं। यह मठ बौद्ध वास्तुकला का एक बेहतरीन उदाहरण है।

एंचे बौद्ध मठ

यह मठ भी गंगटोक से उत्तर-पूर्वी दिशा में 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। ये लगभग 200 साल पुराना है। इस समय यहां करीब 90 भिक्षु रहते हैं। माना जाता है कि लामा ड्रपतोब कार्पो एक महान बौद्ध भिक्षु थे, जिन्हें कुछ विशेष शक्तियां प्राप्त थीं। उन्होंने ही इस मठ को बनाने के लिए इस स्थान का चुनाव किया था। एक किंबदंती के अनुसार वह अपने स्थान से उड़कर यहां तक पहुंचे थे।

रंका मठ 

रंका मठ को लिंगदूम मोनेस्ट्री के नाम से भी जाना जाता है। इस खूबसूरत और विशाल मठ के बाहर भूटिया लोगों द्वारा गर्म कपड़ों और सोवेनियर का बाज़ार भी लगता है। यह मोनेस्ट्री गंगटोक से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। अगर शाम के समय यहां जाएंगे तो भिक्षुओं द्वारा की जाने वाली प्रार्थना में शामिल होने का मौक़ा मिल सकता है। यहां पीछे एक बड़ा छात्रावास है, जहां बाल भिक्षुओं का निवास है।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: