Sat. Sep 22nd, 2018

फोरम नेपाल सरकार में क्यों नहीं गया ?

काठमांडू, १७ मार्च । प्रधानमन्त्री केपीशर्मा ओली ने शुक्रबार मन्त्रिपरिषद् बिस्तार किया । राजनीतिक वृत्त में चर्चा रहो रही थी कि सरकार में संघीय समाजवादी फोरम नेपाल भी शामील होने जा रहा है । लेकिन प्रधानमन्त्री ने सिर्फ एमाले और माओवादी नेताओं को ही मन्त्रिमण्डल में शामील किया है । आखिर फोरम नेपाल क्यों सरकार में शामील नहीं हुआ है ?
आज प्रकाशित नागरिक दैनिक के अनुसार सरकार में शामील होनेवाले मन्त्रियों की नाम छनौट में फोरम नेपाल असफल रहा, इसीलिए शुक्रबार बिस्तारित मन्त्रिपरिषद् में फोरम नेपाल को नहीं समेटा गया । कहा गया है कि पार्टी सह–अध्यक्ष राजेन्द्र श्रेष्ठ को मन्त्री बनाने के लिए पार्टी के भीतर विवाद दिखाई दिया है । पार्टी के अधिकांश नेता श्रेष्ठ के विरुद्ध हैं । लेकिन पार्टी अध्यक्ष उपेन्द्र यादव इसके सम्बन्ध में निर्णय नहीं कर पा रहे हैं । फोरम नेपाल स्रोत के अनुसार सरकार की नेतृत्व पार्टी अध्यक्ष यादव को ही करना चाहिए ।
इसीतरह फोरम नेपाल को प्राप्त मन्त्रालय में भी फोरम नेपाल ने असन्तुष्टि व्यक्त किया है । स्रोत के अनुसार अध्यक्ष यादव भौतिक पूर्वाधार, शिक्षा और स्वास्थ्य मन्त्रालय चाहते थे । लेकिन प्रधानमन्त्री ओली ने सहरी विकास और सिचाई मन्त्रालय देने की बात कहा । अब तो वही मन्त्रालय ही बांकी है ।
लेकिन फोरम नेपाल के नेता इस बात को अस्वीकार करते हैं । उन लोगों का कहना है कि संविधान संशोधन के सम्बन्ध में लिखित सहमति न होने के कारण फोरम नेपाल सरकार में शामील नहीं हुआ है । फोरम नेपाल के महासचिव रामसहाय यादव ने कहा है कि संविधान संशोधन में प्रतिबद्धता सहित लिखित सहमति न होने के कारण शुक्रबार बिस्तारित मन्त्रिमरिषद् में फोरम शामील नहीं हुआ है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of