बर्मिंघम में भारत ने इंग्लैंड को पांच रन से हराकर जीता।

india_wins_champions_trophy_cricketभारत ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफ़ी टूर्नामेंट जीत लिया है । बर्मिंघम में खेले गए फ़ाइनल में भारत ने इंग्लैंड को पांच रन से हराकर खिताब
अपने नाम किया।

बार बार बारिश से बाधित फाइनल मुकाबला 50 ओवर के एकदिवसीय मैच की बजाय ट्वेन्टी 20 मैच बन कर रह गया । जीत के लिए 130 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने आठ विकेट के नुकसान पर 124 रन बनाए । इससे पहले भारत ने सात विकेट खोकर 129 रन का स्कोर खड़ा किया । शानदार ऑलराउंड प्रर्दशन के लिए रविंद्र जडेजा ‘मैन ऑफ़ द मैच’ बने । उन्होंने नाबाद 33 रन बनाए और दो विकेट लिए. टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा विकेट लेने के लिए उन्हें ‘गोल्डन बॉल’ पुरस्कार भी मिला ।

वहीं टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा रन बनाने के लिए भारत के शिखर धवन को ‘गोल्डन बैट’ पुरस्कार मिला । रविवार को खिताबी जीत के बाद भारत के महेंद्र सिंह धोनी एकमात्र ऐसे कप्तान बन गए हैं जिन्होंने टी 20 विश्व कप, 50 ओवर का विश्व कप और चैपियंस ट्रॉफ़ी जीती है ।
मैच का टॉस सही समय पर हुआ और मेज़बान इंग्लैंड ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाज़ी करने का न्यौता दिया । लेकिन इसके बाद लगभग छह घंटे तक हुई बारिश की वजह से पहले मैच पहले 24-24 ओवर का और बाद में 20-20 ओवर का करने का फैसला किया गया ।
भारतीय टीम में कोई बदलाव नहीं था लेकिन इंग्लैंड ने स्टीव फिन की जगह टिम ब्रेसनन को टीम में जगह दी ।
इंग्लैंड की पारी
इंग्लैंड की पारी की शुरुआत में ही भारतीय गेंदबाज़ों को सफलता मिली, जब दूसरे
ओवर की पांचवीं गेंद पर अश्विन ने उमेश यादव की गेंद पर कप्तान एलिस्टर कुक का कैच लपका । उस वक्त इंग्लैंड का स्कोर तीन रन ही था । इसके बाद जॉनाथन ट्रॉट ने इयन बैल के साथ मिलकर पारी संभालने की कोशिश की और दोंनो ने दूसरे विकेट के लिए 25 रन भी जोड़े। लेकिन छठे ओवर में अश्विन की गेंद पर धोनी ने ट्रॉट को स्टंप कर दिया । जो रूट और इयन बैल के रूप में इंग्लैंड के अगले दो विकेट लगातार दो ओवरों में गिरे । अश्विन ने रूट का और रविंद्र जडेजा ने बैल का विकेट झटका. इंग्लैंड का स्कोर उस वक्त 46 रन था और उसके चार विकेट आउट हो चुके थे ।
इससे मेज़बान टीम दबाव में आ गई थी । लेकिन फिर एओन मॉर्गन और रवि बोपारा ने सावधानी से खेलते हुए पारी संभाली और टीम को 110 रन के स्कोर तक पहुंचा दिया । दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 64 रनों की साझेदारी की ।ऐसे समय जब मॉर्गन और बोपारा इंग्लैंड को जीत के करीब ले आए, तब ईशांत शर्मा की शानदार गेंदबाज़ी की बदौलत भारत ने मैच में वापसी की.
ईशांत शर्मा ने 18वें ओवर की तीसरी और चौथी गेंदों पर मॉर्गन और बोपारा को आउट किया । दोनों ही कैच अश्विन ने लिए. मॉर्गन ने 33 और बोपारा ने 30 रन बनाए ।
एक बार फिर इंग्लैंड की टीम दबाव में आ गई और अगले ही ओवर में दो गेंदों के अंतर पर उसके दो और विकेट गिर गए । उस वक्त आठ विकेट खोकर इंग्लैंड ने 113 बना लिए थे और मैच में आठ गेंदें बाकी थीं । आखिरी ओवर में इंग्लैंड को 15 रन बनाने थे और उसके आखिरी दो विकेट बचे थे ।अश्विन की पहली गेंद पर स्टुअर्ट ब्रॉड कोई रन नहीं बना पाए लेकिन अगली ही गेंद पर उन्होंने चौक्का लगाया । अगली तीन गेंदों पर ब्रॉड और ट्रेडवैल ने पांच रन और जोड़े जिससे आखिरी गेंद पर इंग्लैंड को जीतने के लिए छह रन की ज़रूरत थी । लेकिन ट्रेडवैल आखिरी गेंद पर रन नहीं बना पाए और भारत खिताब अपने नाम करने में क़ामयाब रहा ।
cricket_champions_trophy_finalभारतीय पारी

इससे पहले आखिरकार भारतीय समयानुसार रात 8:50 बजे मैच शुरु हुआ और भारतीय टीम बल्लेबाज़ी करने मैदान में उतरी ।
लेकिन इसके बाद भी भारतीय पारी भी दो बार बारिश के चलते बाधित हुई । फ़ाइनल में भी रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी ने भारतीय पारी की शुरुआत की । लेकिन जहां पिछले मैचों में इस सलामी जोड़ी ने टीम को अच्छी शुरुआत दी थी, फाइनल में ऐसा नहीं हुआ.
चौथे ही ओवर में रोहित शर्मा स्टुअर्ट ब्रॉड का शिकार बने और नौ के निजी स्कोर पर आउट हो गए । उस वक्त भारत का स्कोर 19 रन था.
भारत का दूसरा विकेट शिखर धवन के रूप में नौवें ओवर में गिरा । रवि बोपारा की गेंद पर जेम्स ट्रेडवैल ने धवन का कैच लपक कर उन्हें पवैलियन वापस पहुंचा दिया । धवन ने 40 गेंदों पर 31 रन बनाए जिसमें एक छक्का भी शामिल था ।
लेकिन अगले चार ओवरों में इंग्लैंड के गेंदबाज़ों का पलड़ा भारी रहा और 16 रन में भारत के तीन विकेट गिर गए. 13 ओवर के बाद भारत का स्कोर पांच विकेट के नुकसान पर 66 रन था ।
इसके बाद रविंद्र जडेजा और विराट कोहली ने भारतीय पारी को संभाला. दोंनो ने मिलकर छठे विकेट के लिए 47 रन जोड़े । भारत ने 16वें ओवर में बैटिंग पावरप्ले लिया और अगले दो ओवर में 20 रन बनाए जिससे 17वें ओवर के बाद उसका स्कोर 106 पहुंच गया ।
लेकिन अगले ही ओवर में जेम्स एंडरसन की गेंद पर 43 के निजी स्कोर पर विराट कोहली आउट हो गए और फिर आखिरी ओवर की दूसरी गेंद पर आर अश्विन रन आउट हो गए । रविंद्र जडेजा ने 33 रन बनाए और वो नाबाद रहे ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: