बलिदानी सभाको सफल बनाने हेतु मधेशी जनता को AIM का सलाम : श्यामसुन्दर मण्डल

ck-5

ई. श्याम सुन्दर मण्ड,लहान,५ माघ | ‘लोकतन्त्र’ वर्तमान कालखण्ड में सर्वोत्तम राजनैतिक व्यवस्था व शासन प्रणाली है | अभिव्यक्ति स्वतन्त्रता, वैचारिक विविधता प्रकट करने की स्वतन्त्रता, मानव अधिकार, प्रेस स्वतन्त्रता, जनमत का सम्मान, जन समर्थित सरकार, सभा-सम्मेलन की स्वतन्त्रता आदि लोकतन्त्र की प्रमुख विशेषता मानी जाति है | यह व्यवस्था आज संसार भर लोकप्रिय होता जा रहा है | साम्यवादी व्यवस्था चाहनेवाले कम्यूनिष्ट भी साम्यवाद तक पहूँच पाने के लिए आज के दिन में लोकतन्त्र को ही अपना मार्ग बनाने लगे हैं |

नेपाल में भी कुछ हदतक लोकतान्त्रिक व्यवस्था की मूल्य मान्यता एवं सिद्धान्त का परिपालन और अभ्यास हो रहा है | परंतु यह अभ्यास केवल शासक जातियों तक ही सीमित हैं | शासक जातियों की नेतृत्व में रहे पार्टियाँ इसका अभ्यास कर सकते हैं | ‘संघीय लोकतान्त्रिक गणतन्त्र नेपाल’ ईस मुल्क की राजनैतिक शासन व्यवस्था/प्रणाली है | लेकिन ईस व्यवस्था के विपरीत रहे पार्टियाँ जिसका नेतृत्व शासक जाति के लोग करते हैं, वे आसानी से मञ्च लगा सकते हैं | सभा के लिए खुल्ला प्रचार प्रसार कर सकते हैं और बिना रोकटोक लोगों को अपने सभा में बुला सकते हैं | शासक जातियों के पार्टी एवं नेतागण गणतान्त्रिक मुल्क में भी राजतन्त्र का वकालत कर सकते हैं | धर्म निरपेक्ष मुल्क में धार्मिक सभा लगा सकते हैं, रैली चला सकते हैं | शासक लोग संघीय नेपाल में संघीयता विरोधी नारा, जलूस, सभा, सम्मेलन हर कुछ कर सकते हैं | नेपाली शासन को माननेवाला, नेपाली नीति/संविधान को समर्थन करनेवाला तथा उनके गुलामी को स्वीकार करनेवाला कुछ मधेशी पार्टी एवं नेतागण भी लिमिट में रहकर नेपाली लोकतन्त्र का लुफ्त उठा सकते हैं |

लेकिन नेपाली शासन को औपनिवेशिक शासन कहनेवाला स्वतन्त्र मधेश गठबंधन (AIM) को यह सुविधा यहाँ प्राप्त नहीं है | डा. सीके राउत, जो स्वतन्त्र मधेश गठबंधन के संयोजक हैं, नेपाली लोकतन्त्र में अपराधी माने जाते हैं | निहत्था, शान्ति प्रेमी एवं अहिंसक गठबंधन के कार्यकर्ता “स्वराजी” नेपाली लोकतन्त्र में “देश-द्रोही” कहलाते हैं | ४ दर्जन से अधिक स्वराजी आज देश-द्रोह के मुद्दे में नेपाली हीरासत और कठघरे में चक्कर लगाते फिर रहे हैं | डा. राउत दर्जनों बार नेपाली पुलिस के कैद में गिरफ्त हो चुके हैं | सैकड़ों स्वराजी हीरासत में यातना भोग चुके हैं | नेपाली मिडिया डा. राउत और गठबंधन को लगभग बहिष्कार ही कर रखा है | AIM द्वारा बनाए गए मंच तोड़फोड़ का तो रेकर्ड ही नहीं रहा है | नेपाली लोकतन्त्र नें स्वराजियों के उपर जो मनोविग्यान बनाया है उसी वजह से आज लहान में गठबंधन का कार्यक्रम बिना मञ्च के ही सम्पन्न हुआ | हजारों मधेशी जनता की सहयोग नहीं होती तो सायद आज की सभा सम्पन्न नहीं हो पाती | फिरंगियो नें जो बिगत में हर्कत दिखाई, उस वजह से लहान में आज हम मञ्च नहीं लगा पाए और बेन्च पर ही कार्यक्रम करने पर मजबुर होना पड़ा | मधेशी जनता की साथ आज नहीं रहती तो डा. राउत लहान बजार तक संभवत: पहूँच ही नहीं पाते और महान मधेशी सहीदों को श्रद्धाञ्जली भी नहीं दे पाते | सैकड़ों पुलिस को नकाम बनाकर श्रद्धाञ्जली सभाको सफलता तक पहूँचाने वाले तमाम मधेशी महान जनताको AIM सलाम करती है | स्वतन्त्र मधेश गठबंधन (केन्द्रिय) कमिटी और आयोजक स्वतन्त्र मधेश गठबंधन (सिरहा) कमिटी अपने ओर से सभी मधेशी जनों में हार्दिक धन्यवाद के साथ साथ आभार प्रकट करती है |

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: