बाँके जिला में अन्तर्राष्ट्रीय परिवार दिवस मनाया गया

नेपालगन्ज,(बाँके) पवन जायसवाल, २०७३ जेष्ठ ९ गते ।
युनिभर्सल पीस फेडरेशन नेपाल ने अन्तराष्ट्रीय परिवार दिवस के अवसर पर जेष्ठ ८ गते को नेपालगन्ज मेें एक कार्यक्रम की आयोजन किया ।

2
संयुक्त राष्ट्र संघद्वारा घोषित अन्तर्राष्ट्रीय परिवार दिवस नेपाल में शान्ति, धार्मिक सद्भाव, आदर्श परिवार की मूल्य मान्यता तथा नैतिक शिक्षा की क्षेत्र में क्रियाशील युनिभर्सल पीस फेडरेशन नेपाल (युपिएफ) की अन्तर्गत विश्व शान्ति तथा एकीकृत परिवार संघ–नेपाल ने कुछ वर्ष से मनाते आ रही है ।
उसी दिवस के अवसर पर नेपालगन्ज के भेरी प्राविधिक शिक्षालय में आयोजित वैवाहिक प्रतिवद्धता तथा शुभआशीर्वाद समारोह में हिन्दू धर्म के धर्म गुरु बागेश्वरी मन्दिर नेपालगन्ज के मूल महन्त तथा धार्मिक तथा सामाजिक सद्भाव मञ्च के क्षेत्रीय संयोजक चन्द्र नाथ योगी और इस्लाम धर्म के धर्म गुरु मौलाना जियाउल मुस्तफा नुरानी ने अपनी–अपनी धर्म की पवित्र मन्त्रोच्चारण करके जल अर्पण करते हुये सहभागी दम्पत्तियों को आशीर्वाद प्रदान किये थे ।
उसी कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि नेपालगन्ज उद्योग वाणिज्य संघ के अध्यक्ष तथा शान्तिदूत कृष्ण प्रसाद श्रेष्ठ, शान्तिदूत तथा समाजसेवी लता शर्मा, युनिभर्सल पीस फेडरेशन नेपाल (युपिएफ) के राष्ट्रीय प्रशिक्षक काशीनाथ खनाल ने बाँके जिला के विभिन्न क्षेत्रों में क्रियाशील रहें तीन व्यक्तित्वों को सम्मान किया ।

3
यइसी तरह सम्मानित होवालों में फातिमा फाउण्डेशन नेपालगन्ज की फिल्ड अफिसर राम कुमारी चौधरी, मुक्त कम्लहरी विकास मञ्च बाँके की अध्यक्ष दिल कुमारी चौधरी और पत्रकार तथा हिमालिनी के सम्वाददाता पवन जायसवाल रहें है ।
उस अवसर पर प्रमुख अतिथि कृष्ण प्रसाद श्रेष्ठ ने सामाजिक विकृति, परिवार– परिवार वीच विखण्डन, पारिवारिक हिंसा जैसी समस्याएँ से ग्रस्त वर्तमान नेपाली समाज में आदर्श परिवार की मूल्य मान्यता, असल संस्कार तथा नैतिक शिक्षा प्रदान किया गया इस प्रकार की कार्यक्रम गाँव गाँव में आयोजन करें तो और अच्छा होगा विचार व्यक्त किया ।
युनिभर्सल पीस फेडरेशन नेपाल (युपिएफ) के राष्ट्रीय प्रशिक्षक काशीनाथ खनाल ने शान्ति, सद्भाव, आदर्श परिवार, पारिवारिक मुल्य मान्यता तथा संस्कार सम्बन्धि एक घण्टें की लम्बी रोचक प्रस्तुति किया था । सो समारोह मे दो सौं दम्पत्ति सहित चार सौ लोगों की सहभागिता रही थी ।
प्रशिक्षक काशीनाथ खनाल ने पुनःस्थापन की सिद्धान्त, वैवाहिक शुभाशीर्वाद की अर्थ और मूल्य के बारे में विस्तृत चर्चा किये गर्दै हिन्दू धर्म ग्रन्थ गीता, वौद्ध धर्म ग्रन्थ धम्म पद, इस्लाम धर्म ग्रन्थ कुरान, इसाई धर्म ग्रन्थ बाइबल लगायत में उल्लेख किया गया पारिवारिक मूल्य मान्यता के बारे में प्रकाश डाला था ।
युनिर्भसल पिस फेडरेशन पीस काउन्सिल बाँके के संयोजक पूर्णलाल चुके के अध्यक्षता में सम्पन्न कार्यक्रम में संस्था के क्षेत्रीय संयोजक अशोक कुमार चौधरी तथा श्रीमती डिङ ने युनिभर्सल पीस फेडरेशन नेपाल (युपिएफ) के संस्थापक डा. सनम्युन मुन और डा. हाक जहाँ मुन की प्रतिनिधि के रुप में आशीर्वाद प्राप्त दम्पत्तियों को वैवाहिक पुनः प्रतिवद्धता कराये थे ।
इसी तरह युपिएफ बाँके कोहलपुर केन्द्र की लिडर सुश्री बालमती चौधरीद्वारा सञ्चालन किया गया सो समारोह में नेपाल प्रज्ञा प्रतिष्ठान के प्राज्ञ सदस्य तथा शान्तिदूत हरि प्रसाद तिमिल्सिना ने स्वागत कियें थे, थारु संस्कृति विकास मञ्चद्वारा थारु भेष भूषा में मयुर तथा लाठी नृत्य और मोनिका चौधरी तथा यश माया चौधरी ने गीत तथा नृत्य प्रस्तुत किया था कर्यक्रम में लोक गायिका निरुता सिंह ठकुरी और गणेश बहादुर खत्री ने दोहोरी गीत प्रस्तुत किया था कार्यक्रम को रोचक बनाया था ।
उस समारोह में नेपाल पत्रकार महासंघ बाँके शाखा के सल्लाहकार शुक्रऋषि चौलागाई, गुल्जारे अदब बाँके के सचिव तथा शान्तिदूत मोहम्मद मुस्तफा अहशन कुरैशी, गुल्मेली सेवा समाज के उपाध्यक्ष गोविन्द प्रसाद पौडेल लगायत लोगों की सहभागिता रही थी ।

Loading...
%d bloggers like this: