बाँके में डा. सनम्युन मुन की स्मृति दिवस मनाया गया

???????????????????????????????नेपालगन्ज,(बाँके) पवन जायसवाल, २९ गते ।
युनिभर्सल पीस फेडरेसन के संस्थापक स्वर्गीय डा. सनम्यून मुन का दूसरा स्मृति दिवस एक कार्यक्रम के वीच सम्पन्न हुआ ।
उसी अवसर पर युनिभर्सल पीस फेडरेसन के मध्यपश्चिम क्षेत्रीय कार्यालय नेपालगन्जद्वारा आयोजित किया गया श्रद्धाञ्जलि कार्यक्रम में पीस एम्बेसडर तथा वरिष्ठ पत्रकार पूर्ण लाल चुके ने स्वर्गीय डा. सनम्यून मुन के तस्बीर में फूल का गुच्छा अर्पण करके उन के प्रति श्रद्धाञ्जलि अर्पण किया था ।
उसीे अवसर पर पीस एम्बेसेडर तथा वरिष्ठ पत्रकार पूर्ण लाल चुके, क्षेत्रीय संयोजक रुपसिंह भण्डारी, अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि डिभाइन चानस, सुदूरपश्चिम क्षेत्रीय संयोजक नविन जैसी, रेडियो कृष्णसार एफ.एम.नेपालगन्ज के पत्रकार पवन जायसवाल, केन्द्र के होम मेम्बर, अन्य सदस्य लगायत लोगों ने फूल की गुच्छा अर्पण करके  श्रद्धाञ्जलि अर्पण किया था ।
ऐसे ही क्षेत्रीय संयोजक रुपसिंह भण्डारी के अनुसार  नेपाल के अन्य जिला और क्षेत्रों ेंमें रहे केन्द्रों में भी  स्वर्गीय डा. सनम्यून मुन का दूसरा मृति दिवस मनाया गया है ।
विश्वशान्ति, विश्व वन्धुत्व और पारिवारिक सुख के लियें जीवन को अन्तिम घडी तक समर्पित किया डा. सनम्यून मुन के ९२ वर्ष के उमेर में कोरिया में दो वर्ष पहले  उनका स्वर्गारोहण हुआ था ।???????????????????????????????
वे विश्व नागरिकं के रुप में भी विश्वभर प्रसिद्ध थे ।
उनका जन्मभूमि कोरिया के सिउल में था उसी दिन स्ुबाह युनिभर्सल पीस फेडरेसन अन्र्तरष्ट्रीय हेडक्वाटर द्वारा आयोजन किया गया वृहद् श्रद्धाञ्जलि सभा की प्रत्यक्ष प्रशारण भी किया गया था ।
वह श्रद्धाञ्जलि सभा में नेपाल के ओर से संस्था के राष्टीय अध्यक्ष तथा सभासद् एकनाथ ढकाल, विश्वशान्ति तथा एकीकृत परिवार महासंघ नेपाल के अध्यक्ष सन्तोष पौडेल, युनिभर्सल पीस फेडरेसन के शिक्षा निर्देशक डा. रोवर्ट एस. किट्टेल लगायत लोग सहभागी रहे थे ।
कार्यक्रम में डा. मुन प्रति श्रद्धाञ्जलि अर्पण करते हुयें  पीस एम्बेसडर तथा वरिष्ठ पत्रकार पूर्ण लाल चुके ने विश्वशान्ति का सन्देश विश्वभर में पहुँचाने वाले  महामानव डा. मुन ने विश्व एक घर और सभी मानव जात एक परिवार कहकर अवधारणाओं के साथ मानव जात को धर्म, सम्प्रदाय और जातजातियों को संकीर्ण घेरा ंमें सीमित न रखकर मानव जात को मात्र समग्र विकास और परिवार, समाज, देश और विश्व में शान्ति स्थापना करना पडता है महान् अभियान को अपने जीवन के अन्तिम क्षणों तक उन्हों ने संचालन किया था ।
युनिभर्सल पीस फेडरेसन के मध्यपश्चिम क्षेत्रीय संयोजक रुपसिंह भण्डारी ने डा. मून की जीवनी के उपर  प्रकाश डाला था और अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि डिभाइन चानस ने भी डा. मुन के अलौकिक गुणों पर  चर्चा की थी ।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz