Tue. Sep 25th, 2018

बाँके में नयी सञ्चार कानून व्यवस्था की माँग

1 2नेपालगन्ज,(बाँके) पवन जायसवाल, पुष २० गते ।
बाँके जिला के  नेपालगन्ज में न्यूनतम पारिश्रमिक निर्धारण समिति व्दारा आयोजित कार्यक्रम में सहभागी पत्रकारों ने श्रमजीवी पत्रकार ऐन की औचित्य खतम होते जा रहा है कहते हुयें नई कानून व्यवस्था की माँग किया है ।
नेपाल पत्रकार महासंघ बाँके जिला के समन्वय में सुझाव संकलन कार्यक्रम किया गया था । सञ्चारमाध्यम तथा श्रमजीवी पत्रकारों के लियें नये ढंग की कानूनी व्यवस्था करने पर पत्रकारों ने जोड दीया । समिति ने बार बार सरकार को दिया गया  प्रतिवेदन के उपर अभी तक किसी प्रकारकी कार्यान्वयन न होने से पत्रकारों ने सिकायत ब्यक्त किया ।
कार्यक्रम में न्यूनतम पारिश्रमिक निर्धारण समिति के अध्यक्ष खेम भण्डारी ने ऐन कार्यान्वयन में आया २० बर्ष के बाद भी प्रभावकारी न होने से श्रमजीवी पत्रकार ऐन त्रुटिपूर्ण रहा सिद्ध होने की धारणा रक्खा ।
उन्हों ने ऐन को संशोधन वा प्रतिस्थापन क लियें  देशभर से सुझाव संकलन किया गया जानकारी देते हुयें दर्जनों से अधिक स्थानों से नई कानून व्यवस्था के लियें म्याण्डेट मिला जानकारी दिया ।
कार्यक्रम नेपाल पत्रकार महासंघ बा“के के अध्यक्ष शुक्रऋषि चौलागाई के अध्यक्षता में हुआ सुझाव संकलन कार्यक्रम में जिला के अधिकतर सञ्चार के प्रमुखों कीे सहभागिता रही । उन लोगों ने कहा मोफसल के प्रति राज्य की विभेदकारी पूर्ण नीतिया“ होने के नाते विभिन्न कठिनाईया“  सहनी पड रही है  ।
कार्यक्रम में प्रेस स्वतन्त्रता सेनानी एवं वरिष्ठ पत्रकार पन्नालाल गुप्त, नेपाल पत्रकार महासंघ बा“के के पूर्व अध्यक्ष नीरज गौतम, हेमन्त कर्माचार्य,  दैनिक नेपालगन्ज पत्रिका के प्रधान सम्पादक झलक गैरे समिति के सदस्य सुर्यलाल यादव, सम्पादक प्रकाशक समाज के शिव डोटेल, प्रेस चौतारी बा“के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र काफ्ले, अकोराब के केन्द्रीय सदस्य नेत्र केसी रेडियो कृष्णसार एफ.एम नेपालगन्ज के स्टेशन प्रमुख तुला अधिकारी, आजको सामना साप्ताहिक प्रधान सम्पादक अजय कुमार गुप्ता, महिला संचारिका साप्ताहिक प्रधान सम्पादक एवं साप्ताहिक पाक्षिक सञ्जाल की अध्यक्ष अछरी पोखरेल, नेपाल पत्रकार महासंघ के पूर्व केन्द्रीय सदस्य जनक नेपाल, प्रेस चौतारी के केन्द्रीय उपाध्यक्ष कृष्ण अधिकारी, प्रेस यूनियन बा“के के अध्यक्ष नरेन्द्र थापा, चौतारी के पूर्व अध्यक्ष रुद्र सुवेदी, पुजन विश्वकर्मा, डबल महतरा लगायत लोगों ने  समिति को विभिन्न प्रकार की सुझाव दिया । कार्यक्रम का सञ्चालन नेपाल पत्रकार महासंघ बा“के शाखा के सचिव राकेश मिश्र ने किया था ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of