बांदरमुढे विस्फोट में मरनेवालों को शहीद घोषणा

काठमांडू, २६ जनवरी । वि.सं. २०६२ जेष्ठ २३ गते चितवन जिला स्थित बांदरमुढे बमकाण्ड में मरनेवालें ३८ मृतकों को सरकार ने शहीद घोषणा किया है । सर्वसाधारण और नेपाली सेना सवार सार्वजनिक बस, तत्कालीन सशस्त्र विद्रोही समूह नेकपा माओवादी द्वारा बिछाया गया एम्बुस में पड़ा था, उस समय उन लोगों की जान गई थी । घटना में ७२ सर्वसाधारण घायल हुए थे । माओवादी द्वारा संचालित १० वर्षीय जनयुद्ध के कालखण्ड में यह घटना सर्वाधिक चर्चित और अप्रिय है । बिहीबार सम्पन्न मन्त्रिपरिषद् बैठक ने मृतक ३८ लोगों को शहीद घोषणा किया है ।
इसीतरह मन्त्रिपरिषद बैठक ने पूर्वी रुकुम जिला का सदरमुकाम उत्तरगंगा नगरपालिका–१२ को चयन किया है । साथ में यह भी निर्णय किया है कि देश में अवस्थित सभी (सातों) प्रदेश में अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार प्रदर्शन केन्द्र स्थापना की जाएगी । जस अनुसार प्रदेश नं. १ का धरान, २ का वीरगंज, ३ का चोभार, ४ का दमौली, ५ का दाङ, ६ का सुर्खेत और ७ का कञ्चनपुर में अन्तर्राष्ट्रीय प्रदर्शन केन्द्र स्थापना किया जाएग । मन्त्रिपरिषद् निर्णय अनुसार अन्तर्राष्ट्रीय पदक प्राप्त खेलाडियों को आजीवन मासिक ५ हजार रुपैयां भत्ता की व्यवस्था की जाएगी ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: