बाके जिला में धान कटाई शुरू , इसवर्ष धान उत्पादन में भी वृद्धि की संभावना

नेपालगन्ज,(बाके), पवन जासयवाल, कार्तिक ४ गते ।
बाके जिलें में दशैं त्योहार खतम होते ही कृषक लोगों ने धान काट्ना शुरु कर दिया है ।
अधिकतर किसानों की खेतों में पीला होकर धान पक चुका है । पका हुआ धान कृषकों ने वर्षो दिन की खाद्यान्न परीपूर्ति करने में मदत मिलती है ।

????????????????????????????????????
बागेश्वरी गाबिस– ४ डी गा“व के कृषक अमर घर्तीमगर ने कहा हमने लगाया धान परिवार की साथ मिलकर काट रहा हू“ । कृषक अमर घर्तीमगर ने जल्द से ही जल्द धान काटकर तेलहन दलहन लगाने की सोच रहें इस लिये धमाधम धान काट रहा है बताया ।
कृषक अमर घर्तीमगर के पडोसी देवी दाहाल की बात तो दुसरी है । दाहाल के घर परिवार ने दिन में फुर्सत न होन के कारण उन्होंने धान रात में काटनेका काम करतें है ।

????????????????????????????????????
दशै खतम होने के बाद तुरुन्त उज्याली रात होने के कारण उन को धान काट्ने में एकदम सहज हुआ था । कृषक देवी दाहाल कहती है ‘दिन में सभी लोग अपनी अपनी कामों व्यस्त रहते है । शाम को एकजुट होकर खाना खाकर धान काट्ने के लिये जाते है’ । यैसे साथ में धान काटने में एकदम अच्छा लगता है उन्होंने बतायी, ‘हम लोगों ने रात रात भर धान काट्ती है । टोला पडोसियों ने सुबह देखते है तौ धान काटकर खतम हो जाती है और आश्चर्य मानते है । दिनभर क्षेत्रीय कृषि अनुसन्धान केन्द्र खजुरा में इलेक्ट्रिसियन पद में काम करते आ रहें दुर्गा बहादुर खड्का भी रात में धान काटते है, वो कहते है, ‘दिन में आफिस में ड्यूटी करते है और रात में फुर्सत होती है तो रात में खाने क लिये धान काटते है’ उधर नौकरी करते समय विदा भी नही लेना पडता है उधर धान काट्ने के लिये मजदुरी में पैसा खर्च होता उसे भी बचत हुई है उन्हों ने बताया ।
गाव में धान काट्ने के लिये मजदुर ही मिलना मुस्किल होता है इस लिये मैं खुद जैसे तैसे वो समय मिलाकर धान काट रहें है कृषक दुर्गा खड्का बताते है । धान काट्ने के बाद में तोरी लगाने का काम भी हो रहा है सीतापुर गाबिस–३ के गाव के कृषक गेहेन्द्र धिताल ने बताया ।

????????????????????????????????????
बाके जिला में ३६ हजार ५ सौ हेक्टर जितना धान लगाया गया था । ८० प्रतिशत धान पाक चुका है कृषि विकास कार्यलय बाके ने जनाकरी दी है । अभी जल्द ही धान काट्ना शुरु हुआ है तो भी कृषकों ने ५ प्रतिशत धान काट चुके है । यह वर्ष धान उत्पादन में भी वृद्धि होगी जिला कृषि कार्यालय बाके ने अनुमान किया है । प्रतिहेक्टर ३ टन की हारहारी में धान उत्पादन होने का सङकेत दिखता है जिला कृषि विकास कार्यालय बाके जिला के प्रमुख तथा वरिष्ठ कृषि विकास अधिकृत कृष्ण बहादुर बस्नेत ने बताया । बाके जिला में राधा चार, सूखा तीन , सावित्री, स्वर्ण सववान, सामा मन्सुली सववान, राम धान आदि लगाया गया है । बा“के जिला की सतीापुर, राधापुर, बागेश्वरी, चीसापानी, कचनापुर, सोनपुर, उढरापुर, हिरमिनिया गाबिस लगायत स्थान में धान कटनी भी शुरु हो रही है जिला कृषि बिकार कार्यालय ने जानकरी दी है ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: