बास द्वारा नेपालगन्ज में आयोजित सदाचार साथी शिक्षा तालिम

नेपालगन्ज(बाके) पवन जायसवाल, श्रावण २८ गते ।
अनुशासन   विद्यार्थियों का मूल गहना रहा है, यह कहते हुए अपने अध्ययनरत बिद्यालय और बाहर के साथियों को सदाचार साथी बनाने के लिये श्रावण २७ गते एक दिन की ट्रेनिंग में  सहभागियों ने प्रतिबद्धता की है ।
1
ट्रान्सपरेन्सी ईन्टरनेशनल नेपाल के सहयोग में बास द्वारा नेपालगन्ज में आयोजित  सदाचार साथी शिक्षा तालिम” में सहभागी हुए बिद्यार्थियों ने ऐसी  प्रतिबद्धता की हैं ।
बिद्यार्थियों को सुशासन, अनुशासन, सद्चरित्र शिक्षा, नैतिक शिक्षा देकर उन लोगों को  सकारात्मक रुप में प्रयोग करके उन लोगों की धारणा तथा मान्यता का विकास कराते  हुए सदाचारी वनाने की उद्धेश्य के अनुरुप सदाचार साथी शिक्षा ट्रेनिंग प्रदान किया गया है ।
 बिद्यालय लक्षित कार्यक्रम अन्तर्गत प्रथम चरण में जिलों के चार बिद्यालय से ४ लोग और २ युवाए“   को चयनित कर ट्रेनिंग दी गयी है । तालीम में सदाचार साथी का परिचय, महत्व, सदाचार साथियों में होने वाले  गुणों, प्रशिक्षण विधिया“, सदाचार साथी का काम और कर्तव्य  आदि  बिषयों में बास के कार्यक्रम अधिकृत हेमराज भट्ट ने सहजीकरण किया था ।
3
तालीम के पश्चात प्रतिक्रिया देते हुए तालीम की सहभागी आदर्श उच्च माध्यमिक बिद्यालय रा“झा की सदाचार साथी मीनु गुप्ता ने अनुशासन बिद्यार्थी का मूल गहना होने के नाते  साथी और शिक्षकों को सदाचार साथी बनाने की प्रतिबद्धता की है  । इसी तरह दूसरी सहभागी योगी माध्यमिक बिद्यालय गौघाट के समीर अर्याल ने साथी शिक्षा के बारे में बिद्यालय में साथियों को जानकारी कराने के लिये बताया । तालीम के सहभागी युवा बिनोद शर्मा ने जिला में युवाओं को सदाचार शिक्षा के बारे में जानकारी देकर उन लोगों को  असल व्यक्ति बनाने की प्रतिबद्धता की है । ।
तालीम में आदर्श उच्च माध्यमिक बिद्यालय मनिकापुर की मीनु गुप्ता, समाबेशी स्कुल नेपालगन्ज की दुर्गा पुन, ज्ञानोदय उच्च माध्यमिक बिद्यालय के ईमान सिंह खड्का, योगीनी उच्च माध्यमिक बिद्यालय गौघाट के समीर अर्याल, नेपालगन्ज के युवा बिनोद शर्मा और खेम बिष्ट की सहभागिता रही थी ।
तालीम के समापन कार्यक्रम में सदाचार साथी शिक्षा तालीम की सहभागी साथियो को बास के अध्यक्ष मन भण्डारी ने साथी शिक्षा लिखा हुआ थैला, सुशासन सम्बन्धित सामाग्रीया“ और टीसर्ट प्रदान किया है । समापन कार्यक्रम में बास के कार्यकारी निर्देशक नमस्कार शाह, बास के केन्द्रीय कोषाध्यक्ष लुना बुढाथोकी, केन्द्रीय सदस्य तीला सुनार, बाम देब पोख्रेल, बास की लेखा अधिकृत प्रतिक्षा गिरी, कर्मचारियों में रुपाचौधरी, शुद्ध चौधरी लोगों की सहभागिता रही थी ।
Loading...
%d bloggers like this: