Sun. Sep 23rd, 2018

बुद्ध पूर्णिमा काे करें सुख शांति के लिए ये उपाय

30 अप्रैल को बुद्ध पूर्णिमा है। खास बात यह है कि पूर्णिमा पर सिद्धि योग बन रहा है। यह योग करियर और कारोबार में सफलता के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। पूर्णिमा विशेषतौर पर धन की देवी माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की पूजा का दिन माना जाता है। वैशाख माह की पूर्णिमा का महत्व इसलिए और अधिक बढ़ जाता है क्योंकि इस दिन भगवान विष्णु के 9वें अवतार भगवान बुद्ध का अवतरण हुआ था। इसलिए इस दिन बुद्ध जयंती भी है। यहां जानिए, पूर्णिमा पर क्या करें खास कि आपको हो धन और सुख की प्राप्ति… वैसे तो हमेशा ही घर में साफ-सफाई और सकारात्मक वातावरण रखना चाहिए। लेकिन पूर्णिमा के दिन इस बात का खयाल खासतौर पर रखना चाहिए। सुर्योदय से पूर्व उठकर घर में साफ-सफाई जरूर करें।

– स्नान के बाद घर में गंगाजल का छिड़काव करें और घर के मुख्य द्वार पर हल्दी, रोली या कुमकुम से स्वास्तिक बनाएं। कार्यस्थल पर भी गंगाजल का छिड़काव करें।

– पूजा के दौरान गाय के घी का दीपक जलाएं। धूप करें और कपूर जलाएं। परिवार सहित देवी लक्ष्मी-विष्णु देव और भगवान बुद्ध की पूजा करें।

– लक्ष्मी माता को मखाने की खीर, साबू दाने की खीर या किसी सफेद मिठाई का भोग लगाएं। पूजा के बाद सभी में प्रसाद बाटें। ध्यान रखें कि आज के दिन घर में कलह का माहौल बिल्कुल न बने।

– सुबह या शाम को मंदिर जरूर जाएं। हनुमानजी के सामने चमेली के तेल और पीपल के नीचे सरसों के तेल का दीया जलाएं। हनुमानजी को चोला अर्पित करने के लिए विशेष दिन है यह। आप चाहें तो चोला चढ़ा सकते हैं।

-शाम के समय चंद्रमा को जल अर्पित करें। धूप-दीप से उनका पूजन करें। भगवान की कृपा आप पर जरूर होगी।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of