बेटी को सशक्त बनाना ही सबसे बड़ी आवश्यकता है

कोमल वली
गायिका
संविधान का आना ही सबसे बड़ी सकारात्मक बात है । हमें इसका स्वागत करना होगा क्योंकि सभी नेपाली को इसका इंतजार था ।

कोमल वली गायिका

कोमल वली
गायिका

संविधान जब बन रहा था तो उस समय हम अपनी बात संविधान में शामिल करवाने से क्यों चूक गए ? हम हमेशा नकारात्मक बातों पर ज्यादा प्रकाश डालते हैं जबकि सकारात्मक पक्ष भी तो है । सबसे बड़ी बात तो यह है कि हमें सुधार की शुरुआत परिवार से ही करनी चाहिए । हमें अपनी बेटी को मानसिक रूप से मजबूत करना पड़ा । अगर हम उसे सही शिक्षा और सोच देते हैं तो वह खुद सक्षम होगी और उसे अधिकार की प्राप्ति होगी । हमें अपने समाज की सोच को बदलना होगा । समय लगेगा पर यह सम्भव है । कुछ हमारी परम्परा है, संस्कृति है जो हमें स्वयं अपने पिता, पति या भाई के सामने नमन होना सीखाता है । इसमें कोई गलत नहीं है । संविधान में अधिकार मिला या नहीं मिला उससे ज्यादा अधिक महत्व की बात है कि हमें अपनी बेटी को हर तरह से सशक्त बनाना होगा । उसे शिक्षित बनाना होगा । आरक्षण लेकर हम क्या करेंगे अगर उसमें प्रतिस्पद्र्धा करने की क्षमता ही नहीं है । तो पहले हमें उसे सशक्त बनाना होगा समाज में महिला स्वयं स्थापित होगी मेरा यही मानना है ।

Loading...
Tagged with