भारतीय प्रधानमंत्री माेदी ने अपने जन्मदिन पर दिया गुजरातवासियाें काे यह ताेहफा

१७ सितम्बर

 

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने 67वें जन्मदिन के मौके पर गुजरातवासियों को बर्थडे गिफ्ट दिया. अपने गृह राज्य गुजरात पहुंचे पीएम मोदी ने यहां सरदार सरोवर बांध परियोजना को राष्ट्र को समर्पित किया. नर्मदा नदी पर बना यह बांध दुनिया का दूसरे नंबर का और अपने देश का सबसे ऊंचा बांध है.

रविवार सुबह इलाके में खराब मौसम के चलते पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर को दभोई में ही लैंड कराना पड़ा. इस कारण पीएम मोदी सड़क मार्ग से केवड़िया जाना पड़ा और बांध के उद्घाटन में करीब 1 घंटे की देरी हुई.

बता दें कि पीएम मोदी काफी समय से सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई बढ़ाने के भी पक्ष में थे, जिसके बाद इस बांध की ऊंचाई हाल ही में बढ़ाकर 138.68 मीटर की गई है. बांध की इस ऊंचाई को पाने में सरदार सरोवर ने 56 साल के विवादों का लंबा सफर तय किया है.

पीएम मोदी रविवार को सबसे पहले गांधीनगर पहुंचे और अपनी मां हीराबेन से आशीर्वाद लिया. यहां प्रधानमंत्री से मिलने के लिए आस-पड़ोस के कई बच्चे भी पहुंचे. पीएम मोदी पहले भी अपने जन्मदिन पर मां से मुलाकात कर आशीर्वाद लेते रहे हैं. आज भी जन्मदिन के अवसर पर उन्होंने यह परंपरा निभाई.

वह यहां सरदार सरोवर बांध को देश को समर्पित करने के साथ सरदार वल्लभ भाई पटेल की याद में बने ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का भी दौरा करेंगे. 182 मीटर ऊंची ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ की पहल मोदी ने की थी.

जल क्षमता बढ़ने से कई राज्यों को होगा फायदा

एक अधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक बांध की ऊंचाई बढ़ने से प्रयोग करने वाली जल क्षमता 4.73 एकड़ फुट (एमएएफ) हो जाएगी, जिससे गुजरात , राजस्थान, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के लोगों को फायदा होगा. इस परियोजना से गुजरात के जल रहित क्षेत्रों में नर्मदा के पानी को नहर और पाइपलाइन नेटवर्क के जरिये पहुंचाने में मदद मिलेगी और सिंचाई सुविधा में विस्तार होगा, जिससे 10 लाख किसान लाभान्वित होंगे. साथ ही कई गावों में पीने का पानी पहुंचेगा और यह चार करोड़ लोगों को फायदा पहुंचाएगा.

परियोजना से प्रतिवर्ष पैदा होगी 100 करोड़ यूनिट बिजली

इस परियोजना को जल ट्रांसपोर्ट के सबसे बड़े मानव प्रयासों के रूप में देखा जा रहा है. इससे प्रतिवर्ष 100 करोड़ यूनिट जलबिजली पैदा होने की संभावना है. सरदार बांध का दौरा करने के बाद प्रधानमंत्री साधु बेट जाएंगे, जहां ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ और इससे संबंधित सरदार वल्लभ भाई पटेल स्मारक परिसर का निर्माण किया जा रहा है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि पीएम मोदी को इस परियोजना के काम की प्रगति का संक्षिप्त विवरण भी दिया जाएगा. परियोजना के अंतर्गत 182 मीटर लंबी मूर्ति, एक प्रदर्शनी हॉल और एक आगंतुक केंद्र बनाया जाए रहा है.

नर्मदा महोत्सव में भी करेंगे शिरकत

भारतीय प्रधानमंत्री मोदी नर्मदा महोत्सव के समापन समारोह में शामिल होंगे और दभोई में लोगों को संबोधित करेंगे. समारोह के दौरान वह राष्ट्रीय जनजाति स्वतंत्रता सेनानियों के लिए संग्रहालय की आधारशिला रखेंगे. मोदी बाद में अमरेली जाएंगे, जहां वह एपीएमसी के नए मार्केट यार्ड का उद्घाटन करेंगे. वह मधु उत्पादन केंद्र की आधारशिला और अमर डेयरी के नए प्लांट का उद्घाटन भी करेंगे. वह अमरेली में सहाकार सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे.

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: