भारत का सर्जिकल स्ट्राइक पाकिस्तान की सेना के 9 जवान मारे गए 38 आतंकी ढेर

दिल्ली (पीटीआई/जेएनएन)।29_09_2016-pok1

भारत ने पहली बार सीमा पार जाकर पीओके में देर रात सर्जिकल स्ट्राइक की है। डीजीएमओ का कहना है कि इस सर्जिकल स्ट्राइक में आतंकियों को भारी नुकसान हुआ है। सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार इस ऑपरेशन पाकिस्तान की सेना के 9 जवान मारे गए है जबकि 38 आतंकी ढेर हुए। इस ऑपरेशन को देर रात शुरू किया गया और सुबह 4.30 बजे इसे समाप्त किया गया। चीन ने कहा कि वो भारत और पाकिस्तान सरकार के संपर्क में हैं।

सेना के पूर्व डीजीएमओ विनोद भाटिया का कहना है कि यह पाकिस्तान को साफ चेतावनी है कि यदि वह भारत में आतंक भड़काने का कोई काम करता है तो उसका अंजाम भुगतने कि लिए तैयार रहे।

सर्जिकल स्ट्राइक : कै. कालिया व विक्रम बतरा के परिजन बोले देर आए दुरुस्त आए

पाकिस्तान के खिलाफ की गयी इस कड़ी कार्रवाई की जानकारी देते हुए डीजीेएमओ रणवीर सिंह ने कहा कि भारत ने बीती रात पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक की। इस कार्र्वाई को सेना के स्पेशल कंमाडो द्वारा अंजाम दिया गया जो बिना किसी नुकसान के वापस लौट गए। इस बीच सरकार ने आज शाम को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि सेना जल्द ही इस ऑपरेशन का वीडियो भी जारी कर सकती है।

रक्षा मंत्री और अजित डोभाल और कर रहे थे ऑपरेशन की निगरानी

इस पूरे ऑपरेशन की निगरानी रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, एनएसए अजीत डोभाल और डीजीएमओ ने की। स्पेशल कंमाडों दो हेलीकॉप्टर से ऑपरेशन वाली जगह पर पहुंचे और उन्हें कवर देने के लिए भारतीय वायुसेना के विमान पूरी तरह तैयार थे। ऑपरेशन पर निगरानी रखने के लिए पर्रिकर और डोभाल ने कोस्टगार्ड के साथ रखा गया डिनर भी कैंसिल कर दिया था। रक्षा विशेषज्ञ नितिन गोखले के मुताबिक उड़ी और नौगाम के बीच सीमा पार जाकर इस सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया जिसमें आतंकियों के पांच ठिकाने तबाह हो गए। राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री को भी इस सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी दी गयी।

कश्मीर राजस्थान और गुजरात में सीमा पर BSF अलर्ट पर

कल हुई इस सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की सीमा से सटे राज्य- गुजरात, राजस्थान और कश्मीर पर बीएसएफ को हाई अलर्ट पर रख दिया है। डीजीएमओ की तरफ से कहा गया कि कि भारतीय सेना की कार्रवाई में पाकिस्तान को बड़ा नुकसान पहुंचा है।वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सर्जिकल स्ट्राइक की निंदा की है और कहा कि उसकी शांति की चाह को कमजोरी ना समझा जाए। उन्होंने कहा कि हम अपनी आत्मरक्षा के लिए तैयार हैं।

पाकिस्तान को कड़ा संदेश

भारतीय सेना के इस कदम ने पाकिस्तान को संदेश दे दिया है कि वो अपनी हरकतों से बाज आएं, नहीं तो भारत पाकिस्तान में घुसकर भी कार्रवाई करेगा। उन्होंने पाकिस्तान को सख्त हिदायत दी कि पाकिस्तान आतंकियों को पनाह देना बंद करे, जैसा कि पाकिस्तान ने 2004 में वादा किया था।आइजी बीएसएफ कश्मीर विकास चंद्रा ने बताया कि कश्मीर घाटी में बीते 70 दिनों में करीब 30 आतंकी नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर घुसपैठ करने के बाद भीतरी इलाकों में दाखिल होने में कामयाब रहे हैं। यह पहला अवसर है जब किसी वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी ने वादी में आतंकियों की सुरक्षित घुसपैठ की पुष्टि की हो। आइजी बीएसएफ ने कहा कि कश्मीर में गत आठ जुलाई को आतंकी बुरहान की मौत के बाद पैदा हालात के दौरान एलओसी के पार से 25-30 आतंकी सुरक्षित घुसपैठ करने में सफल रहे हैं। कश्मीर में जब इस तरह के हालात रहते हैं तो पाकिस्तान के इशारे पर सक्रिय रहने वाले आतंकियों का ज्यादा से ज्यादा संख्या में कश्मीर में घुसपैठ का प्रयास रहता है। इसमें पाकिस्तानी सेना भी सहयोग करती है।इसके पहले 10-11 सितंबर को पुंछ में अल्लाहपीर इलाके में सेना –

और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इस दौरान एक पुलिस कांस्टेबल शहीद हो गए, जबकि एक सब इंस्पेक्टर और एक नागरिक घायल हुए हैं। पुंछ के अलावा नौगाम सेक्टर में भी मुठभेड़ हुई, जिसमें घुसपैठ की कोशिश कर रहे 7 आतंकियों को सेना ने मार गिराया. उनके पास से हथियार भी बरामद किए गए थे।

साभार, दैनिक जागरण

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz