भारत में मैंने जो कुछ बोला, वह झूट नहीं है : प्रधानमंत्री देउवा

काठमांडू, १२ भाद्र ।
प्रधानमन्त्री शेरबहादुर देउवा ने बताया है कि उन्होंने भारत भ्रमण के दौरान संविधान संशोधन के संबंध में जो कुछ बोले हैं, वह झूट नहीं है । पाँच दिने औपचारिक भ्रमण पूरा कर स्वदेश वापस लौटते वक्त त्रिभुवन अंतराष्ट्रीय विमानस्थल में पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि नेपाल के संविधान में संशोधन आवश्यक है । उन्होंने कहा– ‘संविधान संशोधन प्रस्ताव मधेश में रहने वाले जनता की मांग को संबोधन करने के लिए आगे बढ़ाया गया है, यह आवश्यक भी है । यही सच मैंने भारत में भी बोला हूं । इस में कोई हंगामा खड़ा करने की आवश्यकता नहीं ।’
‘भारत भ्रमण उपलब्धीपूर्ण और सफल रहा है’ ऐसा बताते हुए प्रधानमन्त्री देउवा ने आगे कहा– ‘भ्रमण का उद्देश्य दो देशों के बीच आपसी संबंध को राष्ट्रहित में प्रयोग करना था । उसमें मैं सपल रहा हूं ।’ प्रधानमन्त्री देउवा ने कहा कि बाढ़ और डुबान समस्या समाधान के लिए भी भारत के साथ सहमति बनी हुई है । प्रधानमन्त्री देउवा के अनुसार इसके लिए विज्ञ समूह गठन कर संयुक्त निरीक्षण किया जाएगा और उपर्युक्त कदम उठाया जाएगा ।
प्रधानन्त्री देउवा ने बताया है कि पञ्चेश्वर बहुउद्देश्यीय परियोजना के संबंध में विस्तृस्त प्रतिवेदन (डीपीआर) एक महिना के अंदर फाइनल किया जाएगा । प्रधानमन्त्री का कहना है कि उक्त परियोजना में नेपाल लाभांन्वित हो सके, इसकी ग्यारन्टी की जाएगी ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: