भ्रष्टाचारियाें काे भी चुनाव लडने दिया जाय, मनाेनुकूल कानून बनाने के लिए दवाब ।

काठमाडौं–३० अगस्त

काँग्रेस में  विवाद के कारण निर्वाचनसम्बन्धि विद्येयक संसद में अटका हुअा है । भ्रष्टाचार मुद्दा में जेल की सजा भुगत चुके नेता के अनुकल कानुन बनाने का  काँग्रेस के भीतर ही  दबाब पडने के कारण यह विधेयक अागे नहीं बढ सका है । इसमें स्वयं प्रधानमंत्री की दिलचस्पी भी दिख रही है । सजायाफ्ता नेताअाें काे चुनाव लडने का अधिकार दिलाने के लिए कानून बनाए जाने के पक्ष में काँग्रेस ही नहीं विपक्ष भी पूरी तरह से शामिल है ।

कांग्रेस सांसद धनराज गुरुङ  ने कहा है कि समिति से  विधेयक पास हाेने पर भी व्यवस्थापिका संसदसे यह पारित नहीं हाे सकता है ।

यह विधेयक अभी संसद के राज्य व्यवस्था समिति में है । समिति में संशोधन के लिए  काँग्रेस के १९ सांसदाें ने संशोधन प्रस्ताव दिया है ।

जिनमें से कुछ निम्न हैं राधेश्याम अधिकारी, तारामान गुरुङ, बुद्धिराम भण्डारी, तप्तबहादुर विष्ट, सुशीला चौधरी, चम्पादेवि खड्का, विन्दादेवी आले, पद्मनारायण चौधरी, भरतबहादुर खड्का, पुष्कर आर्चाय, मिनाक्षी झा, किरण यादव, अमृतलाल राजवंशी, तेजुलाल चौधरी, दिनेशप्रसाद परसैला यादव, सुरेन्द्र्रप्रसाद यादव, राजु थापा, इन्दबहादुर बानियाँ अाैर नरबहादुर चन्द हैं ।विपक्षी एमाल भी इस  विद्येयक के राेके जाने पर असन्तुष्ट है ।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: