मजबूत होती सुरक्षा और बिखरता सम्बन्ध

विनय दीक्षित:भारतीय सुर क्षा एजेन्सियों ने विभिन्न समय में नेपाल से दर्जनो अपराधी गिर फ्तार कर यह सावित किया है कि नेपाल उन अपराधियों के लिए छिपने का सुर hindimagazineक्षित स् थान है जो भार त के विरुद्ध काम कर ना चाहते हैं, या किसी अपरध में सामिल होने के कार ण जिन्हें भार तीय सुर क्षा ने वान्टेड घोषित कर र खा है । बात बढÞती गई और नेपाल पुलिस ने भार तीय क्षेत्र से कुछ ऐसे अपराधी गिर फ् तार किए जो लम्बे अर्सर् नेपाल पुलिस की वान्टेड सूची में थे ।

यह गिर फ्तार कर ने का सिलसिला बढता गया और भार तीय सुर क्षा अधिकारि यों ने नेपाल से यासिन भटकल, मोहम्मद उमर , अफजल उस् मानी सहित दर्जनों बडे अपराधियों को हिरासत में लिया । तो नेपाल पुलिस ने भी भार तीय क्षेत्र में दखल बढाया और अपराध में पारंगत सातीर अपराधियों को धर दबोचा, बाँके जिला में अपहर ण, हत्या, फिरौती जैसे अपराध में पुलिस वान्टेड सिकन्दर खाँ, भगत सिंह, मेर ाज र्साईं जैसे दर्जनों अपराधियों को गिर फ्तार कर भार तीय पक्षको भी अपनी कार्य क्षमता दिखाई ।

इन घटना क्रम को देखेते हुए दोनों देशों के सुर क्षा अधिकारि यों की बहराइच में बैठक हर्ुइ और अपराधियों से निपटने वाले तथ्यों पर विचार -विमर्श हुआ, अपर ाध में लगाम लगाने के पहले स् टेप में नेपाली और भार तीय सवारी साधन नियन्त्रण और निगरानी बढाने की बात बाहर आई । फलस् वरुप नेपाल ने भार तीय सवारी साधन पर निशाना कडा किया और चेक जाँच में अवैध मिलने पर बाँके जिला पुलिस ने १४ मोटर साइकल सीज कर दिया । पहले नेपालगन्ज और बाद में जिले के ग्रामीण इलाकों में भी सुर क्षा ब्यवस् था का रुख कडÞा होता गया और अपर ाध नियन्त्रण के नाम पर सामान्य लोगों का भी जीना मुहाल बनता गया । भार तीय सीमाना से जिले अधिकांश नाका जुडÞ होने के कार ण नातेदारी और रि स् तेदारी में आवागमन के लिए नेपाली नागरि क भी भार तीय सवारी साधनका प्रयोग कर ते हैं । दो देशों में शादी विवाह जैसी रि स् तेदारि योंका सम्बन्ध होने के कार ण भी भार तीय क्षेत्र में आवागमन के लिए खासकर मधेशी मूल के लोग भार तीय सवारी साधन का प्रयोग कर ते हैं ।

बातचीत के दौरान मटेहिया निवासी सद् भावना पार्टर्ीी प्रतिनिधि मुस् तफा शेष ने बताया कि अधिकांश सवार ी साधन भार त में शादी कर ने पर दहेज में आती हैं । बाँके जिला के नगर क्षेत्र में स् थायी और अवैधानिक तरि के से संचालित हो र हे भार तीय साधनों पर नेपाली पुलिस का रुख कडा होता गया और गाँव के लोगों ने सस् ते भाव से आपने साधनों को बेचना शुरू किया । पुलिस का अनुमान मानें तो जिले में करि ब १० हजार भार तीय सवार ी साधन संचालन में हैं । जिस में से कुछ लोग नियमानुसार प्रक्रिया पूरी कर ते हैं, बाँकी क्षेत्रों में भन्सार की उचित व्यवस् था न होने के कार ण बिना अनुमति संचालन में हैं ।

इसी मे छिपकर अपराधी भी अपना काम कर ते ह जिसे नियन्त्रण कर ना अब पुिलस के लिए और भी नासूर बनता जा र हा है । नेपालगन्ज सीमा से सटे भार त बहराइच जिला का रुपर्इर्ििहा बाजार जा नपेाली नागरि का का मुख्य खर ीद केन्द्र माना जाता है, वहाँ पर भी भार तीय कस् टम्स ने विना इजाजत नेपाली सवारी साधन को प्रतिबन्धित कर दिया जिससे लागेा मे आरै आक्राशे बढा । सामान्य तरीके से नेपाली सवार ी साधन के साथ लोग भार तीय बाजार में प्रवेश कर ते थे, जो अब नेपाली नागरि कों के लिए किसी सजा से कम नहीं । घण्टों तक लाइन लगना और इजाजत पत्र मिलने के बाद १ किलोमिटर तक का प्रवेश होना, इस समस् या को लेकर लोग कई तर ह की बातें कर ते हैं ।

रुपर्इर्ििहा क े ब्यापारि या ंे की मान ंे ता े यह उनके लिए सबसे बडÞी सजा है, नेपाल पर निभर्र ब्यापारि या ंे क े कार ाबे ार म ंे ३० प्रि तशत की गिर ावट बताया जाता है । स् थानीय पत्रकार सन्तोष शुक्ल ने बताया कि इस तर ह के ब्यवहार से जनता परेशान होती है लेकिन अपर ाध पर लगाम भी लगा है । तस् कर ीका मुख्य नाका कहा जानेवाला र्रुपईडिहा नेपालगन्ज मार्ग अब सुर क्षित बनता जा र हा है पत्रकार शुक्ल ने बताया । उन्होंने बैचारि क विवादको समाधान कर ने के लिए दोनों देशों में सामंजस् य होना जरूर ी बताया । यह विषय सिर्फदोनो देशों के नागरि कों के बीच आपसी दर ार पैदा कर र हा है, र्रुपईडिहा के ब्यापार ी सुर ेश जैसवाल ने बताया । नेपालगन्ज से सस् ते सामान खर ीद कर ने के लिए लोग र्रुपईडिहा आया कर ते थे और अब उनकी तादात में गिर ावट होने की बात जैसवाल ने बताई । नागरि क स् तर से ऐसी आवाजें उठने लगीं कि जनता को सताने से ज्यादा अच्छा होगा कि सीमा आवागमन ही बन्द किया जाए । स् थानीय ब्यापार ी सफीक मिकर ानी ने कहा- विना र ोकटोक आवगमनको बाधित कर ने से बेहतर होगा कि सीमाको बन्द कर दिया जाए । भार तीय सुर क्षा अधिकारि यों का कहना है कि नेपाली क्षेत्रों से इन दिनों बढÞती तस् करी की तादादको न्यून कर ने के लिए सवारी अनुमति का नियम लगाया गया है, कष्टम अधीक्षक राजीव र ाय ने कहा यह

कोई सम्बन्ध विगाडने का खेल नहीं है, अपर ाध पर लगाम लगाना अगर किसी को सम्बन्ध में दर ार लगता है तो हम उसे बार े में कुछ नहीं कहना चाहते । र ाय ने बताया कि जो लोग तस् करी और अपराध में सर ीक थे उन्हे सीमा खुली र हने से मतलब होता है, तस् कर और अपर ाधी को किसी प्रकार के सम्बन्ध पर विचार कर ने की जरूर त नहीं है । कठिनाई पर बात कर ते हुए र ाय ने कहा सिस् टम में बदलाव आने के कार ण कुछ कठिनाई हो र ही है धीरे-धीरे सब सही हो जाएगा । भारतीय क्षेत्र में दैनिक हजार ों विद्यार्थी, सेवाग्राही और र्सवसाधार ण जिन का सम्बन्ध शादी ब्याह आदि से है आते और जाते हैं । लिहाजा उनको भी अब घण्टों लाइन में खडÞा र हना पडÞता है ।

मुस् िकलें यहीं थमने वाली नहीं है, इससे स् थानीय स् तर पर भार तीय पक्ष के नागरि क नेपाली सुर क्षा निकाय पर और नेपाली नागरि क भार तीय सुर क्षा निकाय पर उंगली भी उठा र हे हैं । तर ाई का क्षेत्र होने के नाते दैनिक रूपसे लागे ाकंे ा नपे ाल-भार त आवागमन हाते ा र हता है । चेकजाँच के नाम पर होने वाली अव्यवस् था स े पर शे ान लागे ा ंे न े भार त जाना मल्ु तान जाने के बर ाबर बताया । २२ फर वर ी २०१४ जिस दिन पहली बार सबु ह स े लागे ा ंे का े नए नियमका सामना कर ना पडा, उसी दिन सीमा पर हिमालिनी ने जानने की कोशिश की है कि कितना फायदेमन्द है यह नियम – दैनिक रूपसे कैरि ङ्गका काम कर ने वाले एक युवक ने बताया कि बाइक लेकर र्रुपईडिहा जाने का मतलब समस् या से सामना कर ना है । पास बनाने के नाम पर घण्टों लाइन लगना पडÞता है, और प्रवेश के बाद दूकानों का भी वही मञ्जर होता है । र्रुपईडिहा के एक कम्प्युटर ब्यापार ी भीष्म त्रिपाठी ने बताया कि इस प्रकार की ब्यवस् था से दोनों देशों को बहुत घाटा होगा । नेपाली उपभोक्ता अपनी रुचि के अनुसार बाजार का उपयोग नहीं कर पाएँगे और र्रुपईडिहा आने जाने वाले लोगों की तादाद् में गिर ावट होगी

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz