मझगाँवा में हथियार लुटे जाने की झूठी खबर, कुछ नेता अभी भी हिरासत में

march-5

 फागुण 9 मर्चवार, रुपन्देही डा. सी. के. राउत की गिरफ्तारी के बिरुद्ध फागुण 7 गते मझगाँवा में आयोजीत बिरोधसभा को रोकने के लिए नेपाल प्रहरी नें वहाँपर व्यापक दमन किया | कार्यक्रम के चारदिन पहले ही आसपास के गाऊँ में घर-घर जाकर लोगों को कार्यक्रम में ना जाने के लिए धमकाना सर्च करने जैसा  हरकत किया । बिरोधसभा के दिन शान्तिपूर्ण रैली साथ सभा स्थल पहुँच रहे गठबन्धन के समर्थकों पर लाठीचार्ज, टियर ग्याँस चलाया गया साथ ही सडकों पर चल रहे स्थानिय मधेसीयों को पिटपाट करके आतंकतित किया गया और गाठबन्धन के नेता-कार्यकर्ता के साथ कुछ पैदल यात्री को भी गिरफ्तार किया गया | स्थानीयवासी एवं विद्यार्थी जब फागुण 8 गते प्रहरी कार्यालय में पुलिस दमन का बिरोध करने तथा गिरफ्तार लोगों की रिहाई के लिए नारा जुलुस किया गया तो वहाँ स्थानिय जनता पर दमन किया गया लाठीयां बर्साया गया| गुस्साएं लोगों के साथ पुलिस की झडप हुई और स्वतन्त्र मधेस गठबन्धन को बदनाम करने के लिए कार्यकर्ता द्वारा हथियार लुटेजाने का झुठा खबर फैलाया गया है | पुलीस द्वारा रुपन्देही से गिरफ्तार किए गए नेता-कार्यकर्ता में विकास प्रसाद लौध लगायत 6 आदमी अभी भी पुलिस की गिरफ्त में है, ईससे पहले ही माघ 20 गते जनकपुर और 21 गते सिरहा जिल्ला से स्वतन्त्र मधेस गठबन्धन के संयोजक सहित 12 नेता-कार्यकर्ता को गिरफ्तार करके कैद करके रखा है |यह बात गठ्बन्धन द्वारा जारी किया गया प्रेस विज्ञप्ति में भी उल्लेख है |

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: