मधेशवादी दलों के वीच हुआ एकिकरण, सभी मधेशवादी दल जल्द ही होगें एकिकृत, शाषक बेइमान हैं : महतो

rajendra_mahto
हिमालिनी डेस्क
काठमांडू, १८ अप्रील ।
राजकुमार लेखी नेतृत्व के नागरिक समाजवादी पार्टी और राजेन्द्र महतो नेतृत्व के सद्भावना पार्टी के वीच आज एकिकरण हुआ हैं ।
राजधानी में एक कार्यक्रम के आयोजना करके आधिकारीक रुप से लेखी के पार्टी और महतो के सद्भावना पार्टी के वीच १० बुँदे सम्झौता हुआ हैं ।
दश बुँदें सम्झौता में मधेशी लगायत आदीवासी जनजाती, थारु, महिला, मुस्लिम लगायत के सभी उतपीडित समुदायों के अधिकार के खातिर आन्दोलन करनें के बातें उल्लेख किया हैं ।

साथ ही एकिकरण के बाद पत्रकारों को दिए गए प्रेस विज्ञप्ति में राष्ट्रिय पार्टी के रुप में विस्तार कर तराई मधेश हिमाल के थारु, आदीवासी, जनजाती, दलित और खस सभीको शामिल कर कें अन्य पार्टी के वीच भी एकिकरण करनें के लिए पार्टी प्रयत्नशिल होने के बातें उल्लेख की हैं ।

rajendra
पत्रकारों के पुछे गए सवालों पर राजेन्द्र महतो ने कहा अगर मधेशबादी दलों के नेता सत्ता और भत्ता छोडकर मधेश में जाएगें उसी क्षण नेपाल का सत्यनाश हो जाएगा ।

साथ ही आगे उन्होने कार्यक्रम मे कहा ‘चुनाव में जानें के लिए आतुर होने के बातों के जिकिर करतें हुयें कहा की अगर सरकार चुनाव में जानें के बतावरण बनातें हैं तो हम लोग जरुर चुनाव में शामिल होगों । लेकिन सताधारी पक्षों हमेशा मधेशवादी दलों के साथ और मधेशी जनता के साथ बेइमानी करते आ रहा हैं ।

rajendra1

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz