‘मधेशी की ताकत से संघीयता नहीं अाई है ’ : प्रचण्ड

बारा–९ सितम्बर

 

नेकपा माओवादी केन्द्र के अध्यक्ष पुष्पकमल दाहल ‘प्रचण्ड’ ने कहा है कि १३ हजार माओवादी ने अपना खून बहाया है इसके बाद ही मधेशवादी दल संघीयता कह पाने की स्थिति में अाए हैं ।  । प्रदेश नं २  के चुनाव के क्रम में  बारा के कलैया में उक्त बाताें काे प्रचण्ड ने कहा है उन्हाेंने माअाेवादी के त्याग अाैर बलिदान की भी चर्चा की ।
कलैया के बलरामपुर में आयोजित चुनावी सभा काे सम्बोधित करते हुए  प्रचण्ड ने कहा कि ‘हमने जनयुद्ध किया, उसे वक्त हमारे अलावा काेई  राजनीतिक दल गणतन्त्र,संघीयता,धर्मनिरपेक्षता अाैर समानुपातिक कहने की हैसियत नहीं रखती थी ।’
माओवादी द्वारा  लडे जनयुद्ध ने ही सम्मपूर्ण उत्पीडित जनता को पहचान अाैर अधिकार की लडाई काे उँचाइ में पहुँचाया है । मधेशवादी दल द्वारा अभी संघीयता ‘हमारा कहना  गलत है क्याेंकि  ‘मधेशी की ताकत से संघीयता नहीं अाई है ।’

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: