मधेशी पार्टी (फोरम) का एक और टूकडा

यह तो होना ही था शरद सिंह भण्डारी को मधेशी जनअधिकार फोरम लोकतांत्रिक के सदस्यता से निष्कासित किए जाने के बाद यह अन्दाजा लगाया जा रहा था कि यह पार्टी बहुत जल्द बिभाजित होने वाली है। आज १० सदस्यों ने  फोरम लोकतांत्रिक से इस्तिफा दे दिया । हालाकि इनमे से कई सदस्यो ने इस्तिफा देने का नाटक पहले भी कइ बार दिखा चुके है । लेकिन इस बार लगता है विजय गच्छेदार की ओर से कोइ दिलचस्पि नही लेने की वजह से इनलोगों को पार्टी ही त्यागना परा।
मधेशी जनअधिकार फोरम लोकतांत्रिक के १० केन्द्रीय सदस्यों ने पार्टी से सामूहिक इस्तीफा दे दिया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद सिंह भण्डारी को साधारण सदस्यता से भी निष्कासित किए जाने के बाद इसका विरोध करते हुए १० केन्द्रीय सदस्यों ने पार्टी को अलविदा कह दिया है। पार्टी से सामूहिक इस्तीफा देने वाले वही नेता हैं जिन्हें पिछले दिनों पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल होने के कारण स्पष्टीकरण पूछा गया था। आज राजधानी में पत्रकार सम्मेलन का आयोजन कर फोरम लोकतांत्रिक से अपना नाता तोडने वालों में प्रमोद गुप्ता, नीलम वर्मा, कौशल कुमार यादव, ओम प्रकाश यादव, रामानन्द मण्डल, सेवकी देवी दास, अमृता अग्रहरि, अमीरूल्लाह अन्सारी और शिवजी प्रसाद सोनी है।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: