मधेश के संघर्ष मे मुसलमानाे का भी याेगदान : रियाज अंसारी

 रियाज अंसारी, नेपालगंज  | मधेशियाें मधेश के लिए सदियाें से बलिदानी देकर निरन्तर अधिकार के लिए लडते अारहे हैं । अाज भी वह लड़ाई निरन्तर जारी है। अभितक मधेशयाें के साथ जिस प्रकार का विभेद हुआ है उसी अनुसार का अान्दाेलन अाैर कुर्वानी दी गई है । नेपाल सरकार द्वारा अनिवार्य राशन बचत का नियम लाया गया उस वक्त मधेशियाें ने किशान अान्दाेलन किया था। मधेशयाें के भाषा, संस्कृति पे हमला हुआ तब तराई कांग्रेस गठन कर अान्दोलन किया गया, २०४६ साल मे सद्भावना पार्टी गठन कर मधेश अान्दाेलन अाैर संघियता के लिए अान्दोलन किया गया । नेपाल मे जब जब क्रान्ति हुई तबतब मधेशी का याेग दान रहा। राज शाही का अन्त करने के लिए मधेशियाें ने माउवाद के साथ हाेकर अान्दाेलन किया। थारुअाे ने अधिक कुर्वानी दे कर नेताअाें काे उंचाई पर पहुंचाया। फिर २०६२/६३ मे मधेश प्रदेश अाैर समानता के लिए घनघाेर अान्दोलन हुआ |

अाज नेपाल मे संघियता ताे लागू हुआ पर मधेशी अधिकार विहिन हो गये। मधेश मे जात धर्म अाैर समाज का बटवारा नही था, लाेग सम्पूर्ण मधेश के अधिकार के लिए सभी मिल कर अान्दाेलन किया, लाेग मारे गऐ जिस मे मुसलमानाे का भी याेगदान कदर याेग्य था। जब मधेश मे नेतृत्व का विकास हुआ तभी से लाेग जात धर्म के नाम पर जनता मे बिष डालना सुरु कर दिए | अाज मधेशी के नाम पर एकता बद्ध अान्दाेलन बहुत मुस्किल हाे गया है। मधेश मे सम्पूर्ण मधेश के लिए एकता की क्रान्ति लगभग असफल हाे चुकी है। जहाँ पर लाेग अाशा मे निराश हाे गए थे। उसी समय मे एक आशा की किरण के रूप में , एकता कि निशानी, सम्पूर्ण मधेश के लिए एकता बद्ध अान्दालन की लकिर दिख रही है | वह है मधेश अाजादी का अान्दाेलन, इसी अान्दोलन से सभी जात धर्म वर्ग समाज का कल्याण हाे सकता है। अाज लाेग विश्वास भी कर रहे हैं। मधेश यूवाअाें का अधिक चाहत का संगठन भी बन चुका है स्वतन्त्र मधेश गठबन्धन । इसकी रणनिती अाैर अान्दाेलन का तरिका सभी काे भा गया है। युवा अपनी मान सम्मान, पहिचान, के लिऐ इस संगठन उत्तम विकल्प माना है।

रियाज अंसारी, नेपालगंज

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: