Sun. Sep 23rd, 2018

मधेश जाति की परिभाषा स्पष्ट होनी चाहिए

मधेश जाति की परिभाषा स्पष्ट होनी चाहिए हिन्दी संघ नेपाल के अध्यक्ष रामकृष्ण साह ने राष्ट्रपति को ज्ञापनपत्र देकर मधेशी कोटा में हो रहे घोर बेइमानी और अन्याय के प्रति ध्यानाकृष्ट करते हुए कानून में मधेशी जाति की परिभाषा स्पष्ट होनी चाहिए, ऐसी माँग उन्होंने की है। उन्होंने राष्ट्रपति को जो ज्ञापन पत्र दिया है, वह संक्षेप में इस प्रकार हैः- विषयः धन्यवाद पत्र महामहिम अपने ‘कान्तिपुर’ दैनिक पत्र में मिति ११ फाल्गुन ०६८ तदनुसार २०१२।२३ ता. में पेज नं. ३ के कालम २,३,४ पर मुख्य समाचार के रुप में भाषा एवं संस्कृति के बारे में संघीयता शर्ीष्ाक में ‘साझा सर्म्पर्क को भाषा कुन-कुन हुने र संघीयतामा कुन-कुन भाष को प्रयोग गर्ने बारे विज्ञहरुले ध्यान पुर्‍याउनु आवश्यक छ’ लिखा है। यह महान उद्गार एवं संघीयता के लिए हिन्दी संघ नेपाल की ओर से जनप्रिय महामहिम राष्ट्रपति जी को हार्दिक धन्यवाद अर्पित करता हूँ। सर्म्पर्क भाषा और संस्कृति के बारे में हिन्दी संघ नेपाल अपना दृष्टिकोण प्रस्तुत कराना चाहता है। नेपाल कहने से दो भूगोल का बोध होता है। एक पहाड है, जिस में महाभारत श्रृंखला से लेकर हिमालय श्रृंखला का बोध होता है। दूसरा तर्राई है, जो प्लेन लैण्ड वा समतल भूभाग है। पहाडी और मधेशी दोनों की सांस्कृतिक पहचान भी अलग-अलग है, रीति-रिवाज, पर्व-त्योहार, वैवाहिक परम्परा, वेशभुषा, जाति-भाषा आदि रुप में भी पहाडÞी-मधेशी दोनों अलग-अलग पहचान रखते है। अतः दोनों का सम्मान समान रुप से होना चाहिए। २००र्१र् इ. की मतगणना किताब में मधेशी और पहाडÞी जात की अलग-अलग सूची है। संविधान सभा के चुनाव अर्न्तर्गत समानुपातिक सूची में मधेशी जाति के लिष्ट में एक भी पहाडÞी जाति नेवार, गुरुंग, तामाङ, बाहुन क्षेत्री आदि का नाम नहीं है। निर्वाचन लिष्ट में मधेशी और पहाडÞी जाति की अलग-अलग पहचान है। जिला प्रशासन द्वारा मधेशी कोटा में गोर्खाली जातियों का नाम सिफारिस करने का कार्य लगातार जारी है। अतः उक्त समस्याओं से मुक्त होने के लिए मधेशी जाति स्पष्ट रुप से परिभाषित होना चाहिए। गलत तरीके से प्राप्त किया गया प्रमाणपत्र रद्द होना चाहिए। दर्ुभावनावश अपव्याख्या कर प्रमाणपत्र देने वाले अधिकारी भी दण्डित होना चाहिए। जय संयुक्त नेपाल भवदीय रामकृष्ण साह अध्यक्ष हिन्दी संघ नेपाल

Enhanced by Zemanta
आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of