मधेसी महिला नागरिक समाज द्वारा सप्तरी बाढ़ अाैर देश की राजनैतिक अवस्था विषयक अन्तरक्रिया

विराटनगर

सावन १गते

 

विराटनगर रामजानकी धर्मशाला में मधेसी महिला नागरिक समाज द्वारा सप्तरी बाढ़ पीडित एवम देश के वर्तमान राजनैतिक अवस्था तथा निकाश विषयक अन्तरक्रिया अाषाढ३१ गते सम्पन्न हुवा। कार्यक्रम के अध्यक्ष वृहत मधेसी नगरिक समाज के अध्यक्ष श्री सूर्यनाथ सिंहजी रहे एवम प्रमुख वक्ता के रूप में संयुक्त युवा मोर्चा के संयोजक श्री दीपक कुमार झा, प्रवक्ता श्री इन्द्र कुमार मधेशानन्द जी रहे। इसके लगयत दहेज मुक्त मिथिला के अंतर्राष्ट्रीय संयोजक प्रवीण नारायण चौधरी, महिला नागरिक समाज के अध्यक्षा आशा झा सहित स्थानीय वक्ता जयराम यादव, मुन्नी कर्ण, राधा मण्डल, वीपी मण्डल, हीरालाल साह, योगेन्द्र यादव, राजपा के विराटनगर नगर संयोजक नसरुल, क्राइम आपरेशन पत्रिका के श्याम सुतिहार लगयत वक्ताओं ने अपनी बात रखी। वक्ताओं ने आम जनता के भावना विपरीत लाठी और बन्दूक के दम पर हुए नौटंकीपूर्ण चुनाव की ख़रीजी, देश मे जारी द्वंद को समाधान के लिए पूर्ण समानुपातिक निर्वाचन प्रणाली द्वारा तीसरा सम्विधान सभा का चुनाव, संघीयता की मर्म अनुरूप प्रादेशिक सरकार द्वारा समान माताधिकार को सुनिश्चित करते हुए सार्थक स्थानीय तह का चुनाव, जिससे देश मे दीर्घकालीन शांति का मार्ग प्रशस्त होने की बात कही। नेपाली राज्य सत्ता चूरे क्षेत्र अतिक्रमण नियोजित जंगल कटान, नदी को नियंत्रण नही करना, तटबंध का निर्माण नही करना, काँग्रेस एमाले माओवादी द्वारा अपने परिजनों को तटबन्ध का ठेका देना, खांडो लगायत मधेस के तमाम नदीयों को लावारिस छोड़ कर उर्वर मधेस की भूमि को रेगिस्तान बनाने की षड्यंत्र के तहत सारा क्रियाकलाप होने की बात अन्तरक्रिया कार्यक्रम में सामने आई और इसका जमकर विरोध भी हुवा। राज्य एवम सरकार को समय रहते हुए जिम्मेवार बनने की सुझाव दी गई, अन्यथा मधेस को रेगिस्तान बनने से कोई नही रोक सकता और इसका जिम्मेवार नेपाली सत्ता है। प्रत्येक वर्ष बाढ़ के कारण हजारो लोग विस्थापित, अरबों के धन माल के क्षति, राज्य द्वारा मधेसियों की उपेक्षा का ही परिणाम है। एक तो बहुत मसक्कत के बाद मधेस के लिए कार्यक्रम का तय एवम उसपर बजट विनियोजन होता है और उसके बाद कांग्रेस एमाले माओवादी के पिट्ठुओं द्वारा तरह तरह का बखेड़ा खड़ा करके बजट फ्रीज करबाना, कॉमिसन मांगना, जैसे निंदनीय कार्य के कारण कार्य समापन नही होने की बात भी वक्ताओं ने रखी। कार्यक्रम का समापन निम्न निर्णय सहित किया गया जैसे मधेसी महिला नागरिक समाज के अगुवाई में सप्तरी जिला में खांडो लगायत दूसरे नदियों में प्रत्येक वर्ष होने वाली बाढ़ समस्या का स्थाई समाधान के लिए एक संघर्ष समिति गठन होगी। इस समिती के मार्फ़त सम्बन्धित सरोकार वाला पक्षों के समक्ष ज्ञापन पत्र दिया जाएगा। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए सरकार द्वारा बाढ़ पीड़ित का उचित समाधान होने की उम्मीद जताई।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz