माओवादी केन्द्र द्वारा मोर्चा को संसद में बुलाने की माग, मोर्चा द्वारा संसद वहिष्कार

मोर्चा आवद्ध सांसदों द्वारा आज की संसद बैठक वहिष्कार
विजेता चौधरी, काठमाण्डू, अषाढ १६

Madhesi-morcha-ka-4-neta
संयुक्त लोकतान्त्रीक मधेसी मोर्चा ने व्यवस्थापिका संसद की आज की बैठक वहिष्कार किया है । बैठक प्रारम्भ होने की घोषणा होने के साथ ही मोर्चा आवद्ध आन्दोलनरत दल के सांसदों ने उठ कर विरोध जाहिर किया था ।
विरोध के बाद सभामुख ओनसरी घर्ती ने मोर्चा के सांसाद दिलबहादुर नेपाली को बोलने के लिए समय प्रदान की । नेपाली ने संविधान निर्माण के लोकतान्त्रीक मूल्य मान्यताओं को बेवास्ता करते हुए फास्ट्रयाक के नाम से जनता का अधिकार छिन कर घोषण कीया गया संविधान हम लोगों को स्वीकार्य नही है कहा ।
उन्होंने संविधान ने समानुपातिक तथा समावेशी सहभागिता की सुनिश्तिता न करने की वजह से हम लोग जनता के मुद्दा स्थापित करवाने के लिए निरन्तर आन्दोलनरत है, सदन को जानकारी कराते हुए नेपाली ने आज की बैठक वहिष्कार करने की घोषणा की । वहिष्कार के घोषणा होते ही मोर्चा आवद्ध सांसदों ने बैठक से बाहर हो गए ।
नेकपा माओवादी केन्द्र के सांसदों ने मोर्चा को संसद में बुलाने की माग

नेकपा माओवादी केन्द्र के सांसदो ने आन्दोलनरत संयुक्त लोकतान्त्रीक मधेसी मोर्चा को व्यवस्थापिका संसद में लाने की माग की है ।
संसद श्याम श्रेष्ठ तथा जनकराज जोशी ने सभामुख घर्ती के नेतृत्व में विशेष समिति गठन कर समाधान के पहल करने की मागा किया है । जोशी ने संसदीय नियमावली अनुसार संसद व समिति की बैठक वहिष्कार का प्रावधान न रखने की बात बताते हुए समस्या के सामाधान सदन के भितर ही खोजने की माग भी की ।
श्रेष्ठ ने दलों के बीच हुइ र्वाता से समाधान न देने के कारण इसी सदन से लोकतान्त्रीक विधि व पद्धति से आन्दोलनरत पक्ष के साथ सहमति कायम कर संविधान कार्यान्वय आगे बढाने की जिक्र भी किया ।

loading...