मानव तस्करी के सबसे अधिक मामले नेपाल में

trafficking

काठमांडू, १८ कार्तिक | मानव तस्करी के सबसे अधिक मामले नेपाल में सामने आते है । कोशिशों के बावजूद इसपर लगाम नही लगाया जा पा रहा है । सामान्यतया देखा जाय तो इसके मूल में गरीबी और पढाई की कमी ही है । वैदेशिक रोजगार में जाने वाली युवतियां भी शारीरिक शोषण का शिकार होती हैं । पर इसे रोकने का कोई उपाय सरकार के पास नही है । उसे सिर्फ रेमित्यानंस से मतलब है ।

दुनिया भर में इंसानों को तस्करी से बचाने की मुहिम जोर पकड़ रही है । पुरे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के लिए यह मिशन अहम् बनता जा रहा है । नशीले पदार्थो और अपराध पर संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय यू एन ओ डी सी का कहना है कि चूँकि इंसानों की तस्करी बहुत गंभीर मामला है इसे अनदेखा नही किया जा सकता है । इससे महिलाएं और बच्चे अधिक प्रभावित होते हैं । इंसानों की तस्करी का शिकार होने वालों में 80 फीसदी संख्या महिलाओं और बच्चों की ही होती है । इन्हें योन शोषण का शिकार बनाया जाता है और जबरन अन्य कामों में लगाया जाता है । जब विश्व का ध्यान इस ओर गंभीरता से जा रहा है तो नेपाल सरकार और मानव अधिकारवादियों से भी गंभीरता की उम्मीद की जानी चाहिए ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: