मुना–मदन हंकांग में मंचन

काठमांडू, दिसम्बर, २९ ।
महाकवि लक्ष्मीप्रसाद देवकोटा द्वारा विरचित खंडकाव्य ‘मुना–मदन’ गीतिनाटक हंकांग में मंचन हुआ है । सांस्कृतिक संस्थान नेपाल के कलाकारों के द्वारा हंकाग में यह गीति नाट्य का मंचन हुआ है । हंकांग एकीकृत नेपाली समाज (हिन्स) के संयोजक में याउमा तेईस्थित हेनरी जी लंग कम्युनिटी के सभागार में यह गीति नाटक का मंचन किया गया ।
नेपाल के पूर्व मंत्री गोपालमान श्रेष्ठ, संस्कृतिक संस्थान के अध्यक्ष उद्योग राई ने रीवन काटकर नाटक को औपचारिक रुप में उद्घाटन किया ।
साभार कान्तिपुर

साभार कान्तिपुर

नाटक मंचन हेतु दुर्गा गुरुङ, अधिराज राई, नरेन्द्रराज गुरुङ, टीका कोयी राई, मिलन गुरुङ, सुवास चाम्लिंग, चन्द्रज्योति आलेमगर, कोमला गुरुङ, कृष्णराज लावती, वसन्त श्रीनेत, चेली बनेम चाम्स, मंजु पुन, विनोद मल्ल आदि कलाकार हंकांग में हैं ।
Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: