Mon. Sep 24th, 2018

मोरंग मे दो लाख मधेसी चुनाव प्रक्रिया से बंचित : उपेन्द्र यादव

माला मिश्रा, विराटनगर, २० फागुन। मधेसी जनअधिकार फोरम नेपाल के अध्यक्ष उपेन्द्र यादव ने कहा है प्रदानन्यायधीश को प्रधानमन्त्री बनाने का प्रस्ताव चुनाव नही होने देने का खडयंत्र मात्र है । एक कार्यपालिका और न्यायपालिका का काम कैसे संभाल सकता है यह काम तो केवल रजतन्त्र मे होता था प्रजातन्त्र मे यह संबव नही है । उन्होने प्रमुक तीन दलों के क्रियाकलाप पर प्रश्न उठाते हुये कहा कि किसी भी सहमति कर सभी दलों को एक मत होना जरुरी है । मधेसी जनअधिकार फोरम नेपाल का प्रथम नगर अधिवेशन मे सामिल होने विराटनगर पहुँचे श्री यादव ने कहा कि मधेसी को मतअधिकार से बंचित करके यह संविधान सभा का चुनाव होना असंभव है । उन्होने यह भी स्पष्ट किया कि मधेसी को कर तथा उसे चुनाव से वंचित कर के यह चुनाव नही होने देंगे । इसके लिये होगा तो उग्र आन्दोलन भी किया जायेगा ।

श्री यादव ने आरोप लगाते हुये कहा कि महज मोरंग मे दो लाख मधेसी मतदाताओं को चुनाव प्रक्रिया मे भाग लेने से बंचित किया गया है । पुराना मतदाताओं को चुनाव नामावली से नाम छोडकर षडन्त्र होरहा है जिसे वर्दास्त नही किया जा सकता है ।

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of