यह हैं– एमाले के समानुपातिक सांसद्

काठमांडू, १९ दिसम्बर । समानुपातिक सांसदों के लिए प्रायः सभी प्रमुख दलों ने ११० व्यक्तियों की नाम सिफारिश किया है । लेकिन उसमें से बहुत कम ही व्यक्ति समानुपातिक सांसद बन सकते हैं । सबसे ज्यादा नेकपा एमाले की ओर से ४१ व्यक्ति समानुपातिक सांसद बन सकते हैं । ४१ समानुपातिक सांसदों में अधिकांश महिला रहेंगे । इसीलिए अब एमाले की ओर से कौन–कौन व्यक्ति समानुपातिक सांसद बनने जा रहे हैं, इसमें स्वतः अनुमान किया जा सकता है ।
प्रतिनिधिसभा में प्रतिनिधित्व करनेवाले कूल सांसदों में हर पार्टी से ३३ प्रतिशत महिला होना अनिवार्य है । छनौट मापदण्ड के अनुसार ४१ समानुपातिक सांसदों में एमाले को ३७ महिला सांसद छनोट करना अनिवार्य है । इसीलिए एमाले द्वारा पेश समानुपातिक सूची में क्रम संख्या के आधारम में १० के भीतर पड़नेवाले सभी पुरुष सांसद नहीं बन सकते हैं । लेकिन १०५ के भीतर पड़नेवाले प्रायः सभी महिला सांसद बन सकती है । एमाले ने प्रत्यक्ष और समानुपातिक में कूल १२१ सिटों में जीत हासिल किया है । इसीलिए एमाले की ओर से संसद में ३९ महिला सांसद होना अनिवार्य है । प्रत्यक्ष से २ महिलाओं ने चुनाव जीत दी है, अब ३७ महिला को समानुपातिक सूची में से समावेश करना होगा । उसके बाद ही ३ पुरुष समानुपातिक सांसद बन सकते हैं ।
क्रमसंख्या के अनुसार सबसे आगे खस खार्य कलस्टर के मुकुन्द आचार्य, आदिवासी जनजाति कलस्टर के विजय सुब्बा, थारु कलस्टर के मझिलाल थारु, दलित कलस्टर के रामप्रित पासवान, मधेशी कलस्टर के मोतिलाल दुगड, मुस्लिम कलस्टर के समिम मिया अन्सारी हैं । इन में से न्यौपाने, सुब्बा, पासवान और दुगड, चार व्यक्ति एमाले की प्राथमिकता में हैं । उसमें से भी सिर्फ तीन व्यक्तियों का छनौट करना है ।
इसीतरह आदिवासी जनजाति कोटा में से ११ महिला को सांसद बन सकती है । जहां थममाया थापा मगर, डा. शिवमाया तुम्बाहाम्झे, सुजिता शाक्य, रामकुमारी झाँक्री, बिना श्रेष्ठ, तुलसी थापा, नविना लामा, शान्तिमाया तामाङ, कुमारी मेचे, विनादेवी बूढाथोकी मगर और रणकुमारी बलमपाकी मगर लगभग निश्चित हो चुके हैं । इसीतरह खस खार्य कलस्टर से राधा ज्ञावली, बिन्दा पाण्डे, गोमा देवकोटा, कल्याणीकुमारी खड्का, निरुदेवी पाल, मनकुमारी जिसी, मायादेवी न्यौपाने, विष्णु शर्मा, सरिता न्यौपाने, मेनाकुमारी भण्डारी, तर्था गौतम और शर्मिला कार्की सांसद हो रहे हैं ।
थारु कलस्टर से शान्ता चौधरी और लक्ष्मीकुमार चौधरी सांसद बनने जा रही है और दलित कोटा में से निरादेवी जैर, विमला विश्वकर्मा, विमला विक, पार्वतीकुमारी विसुङ्गे और सानु शिवा सांसद बन सकती है । मधेशी कोटा में से जुलीकुमारी महतो, डा. पुष्पाकुमारी कर्ण, सरलाकुमारी यादव, रेखाकुमारी झा, सिरताकुमारी गिरी और सीता यादव सांसद होने जा रही है । स्मरणीय है, उल्लेखित नामावली के बारे में निर्वाचन आयोग ने अन्तिम फैसला और आधिकारिक निर्णय नहीं किया है ।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: