यूपी सरकार के खिलाफ ट्वीट करने वाले आईपीएस को सीएम योगी ने किया निलंबित

yogi

*लखनऊ{यूपी}*- उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ ट्वीटर पर कथित रुप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी हिमांशु कुमार को आज निलम्बित कर दिया गया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार श्री कुमार इस समय पुलिस निदेशालय से सम्बद्ध थे। उन्होंने राज्य सरकार के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। हिमांशु नई सरकार के कार्यकाल में निलंबित होने वाले पहले बड़े अफसर हैं। फिलहाल वह डीजीपी मुख्यालय से संबद्ध हैं। सरकार के गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्र ने हिमांशु कुमार के निलंबन की पुष्टि की है। अपने ट्वीट के जरिए पुलिस महकमे को कठघरे में खड़ा करने वाले वर्ष 2010 बैच के आईपीएस हिमांशु कुमार के खिलाफ कार्रवाई तय मानी जा रही है।

गृह विभाग ने इस मामले में डीजीपी से रिपोर्ट लेकर निलंबन का प्रस्ताव मुख्यमंत्री को भेजा था। शुक्रवार को देर शाम मुख्यमंत्री ने इस पर अपनी मुहर लगा दी।

चुनाव के दौरान फिरोजाबाद के एसपी पद से हटाए गए हिमांशु कुमार ने टि्वट करके कहा था कि प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद पुलिस अफसरों में एक जाति विशेष के अफसरों को या तो निलंबित करने या फिर लाइन हाजिर करने की होड़ लगी है। फिरोजाबाद से हटाए जाने के बाद से वह डीजीपी मुख्यालय से संबद्ध थे। उनका अपनी पत्नी के साथ भी विवाद चल रहा है। पत्नी से विवाद मामले में आईपीएस हिमांशु के खिलाफ बिहार की एक अदालत से वारंट भी जारी हुआ है। निलंबित आईपीएस हिमांशु कुमार मूल रुप से बिहार राज्य अन्तर्गत पूर्वी चंपारण जिले के केसरिया थाना क्षेत्र के बथना गांव के निवासी हैं।

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz