राजपा बिना का चुनाव का मतलव राज्यसत्ता का पतन : राजकिशोर यादव

 

 लहान, २८ जुन । वर्षों से साथ साथ आन्दोलन कर रहे संघीय समाजवादी फोरम नेपाल के अध्यक्ष उपेन्द्र यादव ने भारी लेनदेन करके मधेश और मधेशीयों क माँग विपरित कित्ताकाट करके चुनाव में भाग लेने की बात राष्ट्रीय जनता पार्टी के अध्यक्ष मण्डल के नेता राजकिशोर यादव ने कही है । लहान मेंं राजपा द्धारा आयोजित इद मिलन कार्यक्रम में अध्यक्ष यादव ने कहा कि इस संविधान की वैधता चुनाव से न होकर मधेशीयों को पहचान सहित का अधिकार सुनिश्चित करने से होगा । दो और चार नेता पथभ्रष्ट होने से मधेश का मनोविज्ञान नहीं बदल सकता है । अध्यक्ष यादव ने आगे कहा कि नेपाल बहुराष्ट्र, बहुभाषिक देश है मगर यहां सिर्फ एक ही गोर्खाली भाषा का वर्चस्व रहा है । अब ये नहीं है चलनेवाला अगर मधेश को राष्ट्रीय पहचान नहीं दिया गया तो हम भी गोरखाली राज्य सत्ता को मान्यता नहीं देगें । गोर्खाली राज्यसत्ता हम मधेशी के उपर हमेशा जुल्म ढाते आए है । यादव ने ये आरोप लगाया है कि मधेश की विविधता बीच गोर्खाली राज्यसत्ता ने हमेशा खेलना चाहा है । मुस्लिम, थारु, दलित, पिछडावर्ग को फोड्ने का साजिश भी रचा है । नेता यादव ने धम्की भरे स्वर में ये भी कहा है कि राजपा बिना अगर चुनाव हुवा तो राज्यसत्ता का पतन निश्चित है । उन्होंने कहा है कि गोरखाली हमारा मालिक नही है जो माग के अपना अधिकार ले हम बराबरी का अधिकार छीनना भी जानते है |

यह भी पढ़ें…

यक्ष प्रश्न यह है कि अब भी सरकार मधेश की माँगों को लेकर कितनी गम्भीर है ?

इसीतरह राजपा के सिरहा के अध्यक्ष रामबहादुर यादव ने कहा है कि ह से हिन्दु और म से मुस्लिम होता है अगर ह और म एक साथ मिल जाए तो हम होगा और हम मे बडी तागत होती है । राजपा के केन्द्रीय सदस्य तथा आन्दोलन संघर्ष समिति के उप संयोजक महमुद आलम के सभाध्यक्षता मा हुवे इद मिलन कार्यक्रम मे नेपाल पत्रकार महाँसंघ सिराहा के अध्यक्ष दिनेश्वर प्रसाद गुप्ता, केन्द्रीय सदस्य रोहित महतो, राकेश झा, भरत साह, विना मण्डल, सुनिता साह, सिरहा अध्यक्ष उपेन्द्र सिंह, जिवरञ्जन यादव, मनोज यादव, बसन्त यादव, जयनारायण यादव, वृस्पति दास, रामप्रताप यादव लगायतने शुभकामना दी थी । कार्यक्रम का आयोजन विनोद साह द्धारा किया गया था ।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz
%d bloggers like this: