राप्ती पार के स्थानीयवासियों की सिकायत

नेपालगन्ज, (बाके) पवन जायसवाल, २०७४ असार १ गते ।
बाके जिला के दुर्गम क्षेत्र राप्ती पार के स्थानीयवासियों ने सिकायत की है कि राप्ती पार पिछडा जगह नही इसको पीछे किया गया है |
बाके जिला की नरैनापुर गाउपालिका वडा नम्बर ५ मटेहिया में जेष्ठ २८ गते को सम्पन्न सामाजिक एकता, सामुदायिक सुरक्षा और सुशासन बिषयक तालीम के सहभागियों नें ऐसी सिकायत की ।
तालीम की समापन समारोह में बोलते हुये तालीम के सहभागियों ने स्थानीय निकाय लगायत बिभिन्न दातृ निकायों से राप्ती पार की विकास के नाम में हरेक वर्ष करोडौं की बजेट आती रहती है लेकिन बिकास नही होती है बताये । राप्ती पार कीे बगौडा क्षेत्र की नाम में अधिकांस ब्यक्तियों ने ब्यकितगत लाभ लेतें है बताया |
यूएनडिपी की सहयोग में बास नेपालगन्ज द्वारा संचालित सामाजिक सदभाव तथा सामुदायिक सुरक्षा के लिये सहकार्य परियोजना अन्तरगत सम्पन्न हुआ तालीम में असल शासन, असल शासन की आधारभूत तत्व, सुचना की हक, सामाजिक सद्भाव, सामुदायिक सुरक्षा, सामाजिक एकता लगायत के बिषय में बास के केन्द्रीय अध्यक्ष मन भण्डारी और कार्यक्रम संयोजक शम्भु शाही ने सहजीकरण किया था । तालीम में नरैनापुर गाउ“पालिका वडा नं. १ से लेकर ६ तक के २० लोगों की सहभागिता रही थी ।
इसी तरह बा“के जिला की बेलहरी और टिटिहिरिया स्वास्थ्य चौकी की सामाजिक परिक्षण अन्तरगत आम जमघट कार्यक्रम सम्पन्न हुआ है ।
जिला जन स्वास्थ्य कार्यालय बा“के की सहयोग में तथा बास नेपालगन्ज की आयोजन में सम्पन्न सामाजिक परिक्षण में सम्पन्न ह्आ । बेलहरी स्वास्थ्य चौकी में निर्माण हुआ प्रयोग बिहिन बर्थिङ्ग सेन्टर आगामी आर्थिक वर्ष से प्रयोग में लाना लगायत की पा“च बूंदे कार्ययोजना तयार किया गया है ।
बेलहरी सवास्थ्य चौकी की सामाजिक परिक्षण बास के सामाजिक परिक्षक खुमेश सुबेदी और टिटिहिरिया स्वास्थ्य चौकी की सामाजिक परिक्षण लुना बुढाथोकी ने सहजीकरण किया था ।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: