राप्रपा के प्रस्ताव :- ५ विकास क्षेत्र ही संघीय प्रदेश

RPP-Nepal-and-RPP
फागुन २ ,काठमान्डू ,आर एन यादव
प्रदेश सीमांकन में विवाद चल रहा है । इसी समय संघीय संरचना के निर्माण में ५ विकास क्षेत्रों को आधार बनाने हेतु राप्रपा ने अपनी प्रस्तावों को लाया हैं । शुक्रबार शुरु होने वाली राप्रपा एकता महाधिवेशन में पार्टी अध्यक्ष कमल थापा ने तैयार की हुई राजनीतिक तथा वैचारिक मस्यौदा प्रतिवदेन में ५  विकास क्षेत्रों को ही संघीय प्रदेश बनाने के प्रस्तावों को रखा हैं ।  ‘फिलहाल कायम रहे इसी ५ विकास क्षेत्रों को ही प्रदेश बनाने हेतु प्रस्ताव हैं ,’ सहप्रवक्ता मोहन श्रेष्ठ ने कहा ।

वर्तमान सरकार द्वारा मधेस में दो प्रदेश होने के लिए संसद में विधेयक दर्ता किया हैं । लेकिन राप्रपा ने सीमा फेर-बदल सहित के ४ विषयों को संशोधन में  विरोध जनाई है । पार्टी एकीकरण से पहले राप्रपा के अध्यक्ष कमल थापा संघीयता के विरोध की थी ,तो पशुपतिशमशेर राणा नेतृत्व के राप्रपा ने तराई-मधेस में दो प्रदेश के खाका प्रस्तुत की थी । बैठक में राष्ट्रिय अध्यक्ष प्रकाशचन्द्र लोहनी ने आर्थिक कार्यपत्र प्रस्तुत की हैं।

हिन्दु राष्ट्र निर्माण करने के विषय में एक हुए राप्रपा ने महाधिवेशन में प्रस्तुत होने वाली  राजनीतिक तथा वैचारिक मस्यौदा प्रतिवदेन में राजा सहित के प्रजातन्त्र रहा हैं ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz