रामरहीम के समर्थकाें ने किया दंगा १२ की माैत

चंडीगढ़ (जेएनएन)। 

 

रेप के पुराने मामले में शुक्रवार को पंचकूला की सीबीआई कोर्ट ने बाबा राम रहीम को दोषी करार दे दिया है।एक गुमनाम पत्र पर लिए गए संज्ञान के करीब 15 साल बाद अदालत ने फैसला सुनाते हुए डेरा प्रमुख को दोषी करार दिया। राम रहीम पर आए फैसले के बाद डेरा समर्थक अनियंत्रित हो गए हैं। पंचकूला और बठिंडा में हिंसा की खबरें आ रही है। फैसले से भड़के समर्थकों ने कई जगहों पर आगजनी की है। राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद उन्हें रोहतक ले जाया जाएगा। फिलहाल उन्हें सेना की निगरानी में पंचकूला के चंडी मंदिर में रखा गया है। सजा पर अगली सुनवाई 28 अगस्‍त को की जाएगी। जज जगदीप सिंह ने पूरा फैसला पढ़ा।

12 लोगों की मौत, 70 घायल

अदालत के फैसले के बाद बाबा समर्थक बेकाबू हो गए हैं। भड़के समर्थकों ने पंजाब और हरियाणा के कई इलाकों में आगजनी और तोड़फोड़ की है। पंचकूला में उपद्रवियों ने मलोट रेलवे स्टेशन और एक पेट्रोल पंप को आग के हवाले कर दिया गया है। जबकि मीडिया की तीन ओबी वैन में भी आग लगा दी गई है। इसके अलावा आयकर दफ्ते पर भी आगजनी हुई है। वहीं हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा 70 लोग घायल भी हुए हैं। घायलों को सेक्टर 6 के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कई जगहों पर लगा कर्फ्यू

हिंसा को देखते हुए पंजाब के बठिंडा, मनसा और मुक्तसर में कर्फ्यू लगाया गया है। कोर्ट के बाहर डेरा समर्थकों व पुलिस में झड़प हो गयी जिस पर नियंत्रण के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे। हालात को देखते हुए पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शांति की अपील की है। हरियाणा के कई शहरों की बिजली काट दी गयी। सिरसा में भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है। कई जिलों में तमाम स्कूलों व कॉलेजों को बंद कर दिया गया है। एहतियात के तौर पर दिल्ली की सीमा पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

 

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz