Fri. Sep 21st, 2018

राष्ट्रपति ने नेताओं को केवल सत्ता और भोट के लिये न लडने की सलाह दी ।

राष्ट्रपति डा. रामवरण यादव ने कहा है कि राष्ट्रियता कमजोर होने पर खुद मुकदर्शक बनकर नही बैठे रह सकते । वीपी कोइराला के ९९ औं जन्मजयन्ती के अवसर पर वीपी संग्रहालय सुन्दरीजल मे २५ भाद्र मे हुये कार्यक्रम मे यादव ने राष्ट्रप्रमुख के हैसियत से राष्ट्रियता कम्जोर होरहे देखने पर चुपचाप न बैठ्ने की बात बताइ । उन्होने कहा कि राष्ट्रीयता कमजोर होने का दावा करने बाली पर्टी भी राष्ट्रीयता के लिये कुछ नही कररही है । राष्ट्रपति ने कहा कि

उन्हे भलिभाती मालुम है कि उन्हे राजनीतिक बात नही करनी चहिये लेकिन देश कि स्थिति को देखकर चुपचाप बैठा नही जासकता । राजनैतिक दलों के बीच सहमति नही होने से अपना आक्रोस ब्यक्त करते हुये राष्ट्रपति महोदय ने कहा कि इन प्रमुख दलों के कारण ही गणतन्त्र पर भी काला बादल मडरारहा है । राष्ट्रपति ने केवल सत्ता और भोट के लिये न लडने की सळाह प्रमुख नेताओ को दी ।

 

 

 

आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of