राष्ट्रपति भण्डारी चिंतित तथा आक्रोशित, शीर्षनेता से पुछा चुनाव कब होगा ?

b-2

काठमांडू, २२ पुस | राष्ट्रपति विद्यादेवी भंडारी  ने कल्ह प्रमुख दलों के शीर्ष नेताओं को बुलाकर चुनाव की तयारी के बारे में जानकारी लीं थीं | भण्डारी ने बिहीबार सैम को  कांग्रेस, एमाले, माओवादी, राप्रपा और फोरम लोकतान्त्रिक के शीर्ष नेतागण को शीतल निवास में बुलायीं थी | उन्होंने ने नेताओं से प्रश्न कीं थीं कि अभी तक कोई सहमति नही हुई है चुनाव की तयारी भी नही दिखती है | उन्होंने ०७४ माघ ७ के अंदर ही तीनो चुनाव करवा लेने की संवैधानिक बाध्यता होने की जानकारी भी दोहराई थी |

सहभागी एक नेता के अनुसार चुनाव की तैयारी नही होने पर राष्ट्रपति भण्डारी कुछ चिंतित और आक्रोशित दिख रहीं थीं | उन्होंने इससे पहले भी सभी दलों के नेता से बुलाकर चुनव के बारे में बात कर चुकी थी |  पुछा

राष्ट्रपति भण्डारी सहमति पर जोड़ देते हुये सबों को दलीय सहमति के लिए ध्यानाकर्षण करायी थी ।

लेकी प्रमुख दल के शीर्ष नेतागण उनके सामने अपना अपना अडान रखे । प्रधानमन्त्री प्रचण्ड ने सरकार अपनी तैयारी में लगी हुई है जानकारी कराई | उन्होंने कहा कि अब २४ गते संसद सुचारु होगा और  चुनाव सम्वन्धीत विधेयक, संविधान संशोधन सभी आगे बढ़ाया जायेगा |

प्रमुख विपक्षी दल एमाले के अध्यक्ष केपी ओली ने संविधान संशोधन विधेयक सरकार से वापस लेने का आग्रह किया।

कांग्रेस सभापति शेरबहादुर देउवा ने खा कि हमलोग मधेसी को भी सामिल करा कर आगे बढने के पक्ष में हैं। उन्होंने प्रश्न करते हए खा कि जब प्रदेश सभा ही नही बना है तो सहमति कैसे लिया जायेगा |

राप्रपा अध्यक्ष कमल थापा ने कहा कि इसी स्थिति में आगे बढना मुश्किल है आगे संवाद की आवश्यकता है |

बैठक में माओवादी नेता नारायणकाजी श्रेष्ठ प्रकाश ने कहा कि २४ गते एमाले द्वारा संसद खोलना चाहिये । उसके बाद संविधान संशोधन, चुनाव सम्वन्धीत विधेयक टेबल होगा और महाअभियोग को आगे बढ़ाने के लिये कांग्रेस को तैयार होकर आना चाहिए |

संशोधन टेबल करकेदलों के बिच सहमति से ही आगे बढ़ा जायेगा उन्होंने बताया |

loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz