राष्ट्रीयता की परिभाषा क्या, मिलाप या विरोध ?

मालिनी मिश्र, काठमाण्डू,२९ जुलाई ।
क्या आपस में झगड़ कर ही हम राष्ट्रीयता को साबित कर सकते हैं ?आखिर राष्ट्रीयता की परिभाषा क्या है ?
पिछले २ दिनों से भारत नेपाल सीमा पर नदी में भारतीय पक्ष की तरफ से बांध के बनाने के विषय को लेकर दोनों तरफ के विवाद में अभी तक १२ लोग घायल हो चुके हैं । ये लोग वहां के ही स्थानीय निवासी हैं ।
लगभग १० वर्ष पूर्व ही भारत के द्वारा सप्तरी के तिलाठी में बनाए गये इस बांध के पुनः निर्माण के लिए जो कि बाढ के कारण ढ़ह गया है, आज प्रयास पूर्वक काम में लगे भारतीय लोगों व नेपाल के युवाओं के बीच बहस व झड़प हो गयी है ।
 भारत के भी ६ लोगों को वहां के सीमावर्ती नजदीकी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती किया गया है । फिलहाल स्थिति अभी सामान्य हो गयी है ।जब भी बात देश की होती है तो जनता न जाने क्यों दो गुटों में बाँट जाती है ? जहाँ समस्या सुलझाने की बात होनी चाहिए वहां सिर्फ तनाव पैदा करने की बात होती है , बाढ़ हर वर्ष आती है पर समय से पहले न तो जनता का ध्यान जाता है  और न ही सरकार का पर जब कोई अनपेक्षित घटना घट जाती है तो उसे लेकर बहस जरुर होती है .तिलाठी में जो घटा वो स्वाभाविक है क्योंकि खुद की रक्षा हर कोई करना चाहता है .पर इस विवाद को जो रूप दिया जा रहा है वो सिर्फ इसलिए कि दूसरा पक्ष भारतीय है वो सही नही है .  ये तो तब भी हो सकता था जब दोनों गावं हमारे ही होते .बाढ़ का प्रकोप वहां भी है जहाँ न तो बांध हैं और न ही कोई सीमा फिर उसके बचाव की चर्चा क्यों नही हो रही ? कहाँ हैं सरकार  और कहाँ है राष्ट्रीयता  की बात करने वाले संचार माध्यम और जनता की सहायता ? आज भी मधेश की मदद खुद मधेसी या मधेसी संस्था ही कर रहे हैं .
t-1
 इस तरह की घटना का होना कोई आश्चर्यजनक बात नही है। हमारे साधारण रोजमर्रा के जीवन में भी पड़ोसियों के साथ हुई झड़प को तूल नही दिया जाता तो पड़ोसी देश के साथ हुई इस तरह की छोटी झड़प को क्यों राष्ट्रीय व अन्तरराष्ट्रीयता का मामला बनाया जा रहा है । सभी देशों के लिए व राष्ट्रों के लिए आपसी प्रेम व सद्भाव बनाने में जो भलाई व आनन्द है वो विवादों में पड़ने में नही । ऐसा क्यों होता है कि समय समय पर यहां राष्ट्रवाद का नारा लगाया जाता है, क्या राष्ट्रीयता को दिखाने के लिए हमें आपस में लड़ना जरुरी हैरु बिना लड़े झगड़े हम मामलों का समाधान नहीं कर सकते हैं ?
loading...