रियो ओलम्पिक का आगाज आज से ः रंगारंग कार्यक्रम से हुई भव्य शुरुआत

रियो डी जेनेरियो:650_1_636060693136111513

 ब्राज़ील के रियो में खेलों के महाकुंभ ओलिंपिक का शुभारंभ हो चुका है. भारतीय समय के मुताबिक, आज सुबह क़रीब 4 बजे रियो के माराकाना स्टेडियम में भव्य समारोह के साथ ओलिंपिक खेलों की शुरुआत हुई. समारोह में ब्राज़ील के कलाकारों ने म्यूज़िक, थ्रीडी इमेजिंग और लेजर तकनीक का इस्तेमाल कर रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया. समारोह में छह हज़ार से ज़्यादा वॉलिंटियर्स ने भाग लिया. रियो ओलिंपिक के मार्च पास्ट में ग्रीस ने सबसे पहले एंट्री की. इस बार ओलिंपिक में भारत और शरणार्थी ओलंपिक टीम सहित 209 देशों के 11,000 से अधिक खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं. सफल ओलिंपियन तैराक माइकल फेलप्स बने अमेरिकी दल के ध्‍वजवाहक
स्पेनिश और ब्रिटिश टीमों को भी दर्शकों ने खूब समर्थन किया, क्योंकि उनकी अगुवाई क्रमश: टेनिस स्टार राफेल नडाल और एंडी र्मे कर रहे थे. जमैका का 60 सदस्यीय दल अपने सबसे बड़े स्टार उसैन बोल्ट के बिना परेड में उतरा. दुनिया के सबसे सफल ओलिंपियन में से एक तैराक माइकल फेलप्स ने अमेरिका के 500 सदस्यीय दल की अगुवाई की, जिन्होंने लाल, सफेद और नीले रंग की पोशाक पहनी हुई थी. दिग्गज फुटबाल खिलाड़ी पेले खराब तबियत के कारण ओलिंपिक मशाल को नहीं जला पाए. यह जिम्‍मा ब्राजील के मैराथन धावक वंदेरले डी लीमा को दिया गया, जिन्‍होंने कॉल्ड्रन प्रज्‍जवलित कर खेलों का शुभारंभ किया.
समारोह का सबसे महत्वपूर्ण क्षण उस वक्त आया, जब दिवंगत गीतकार, संगीतकार टोम जोबिम के गीत ‘द गर्ल फ्रॉम इपानेमा’ को उनके पोते डेनियल ने गाया. इसके साथ ही सुपरमॉडल गिजेल बुंडचेन को मंच पर कैटवॉक करते देखना भी दिलचस्प था. इसके अलावा अन्य प्रस्तुतियों में दिग्गज सांबा गायक एल्जा साआरेस की प्रस्तुति और कारोल कोनका और 12 साल के बच्चे एम.सी सोफिया का हिपहॉप डांस शामिल था, जो ब्राजील के अश्वेत समुदाय का प्रतिनिधित्व कर रहे
उद्घाटन समारोह में रियो के मशहूर ‘सांबा’ नृत्य के साथ ब्राजील के समृद्ध इतिहास और सांस्कृतिक विरासत का भव्य प्रदर्शन किया गया. रंगारंग कार्यक्रमों के जरिए दुनिया के लिए सबसे बड़े संकट बन रहे ग्लोबल वार्मिंग (विश्व भर के तापमान में वृद्धि) को लेकर संक्षिप्त लेकिन दमदार संदेश दिया गया. ब्राजीली आयोजकों ने फुटबाल के प्रति अपने जुनून को एकतरफ रखकर लगभग चार घंटे चले उदघाटन समारोह में जलवायु परिवर्तन और प्राकृतिक संसाधनों की कमी को अपना मुख्य विषय बनाया, जिसके साथ 17 दिन तक चलने वाले खेल महाकुंभ की शुरूआत हुई.
ब्राजील के कार्यवाहक राष्ट्रपति माइकल टेमर ने अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के अध्यक्ष थामस बाक और संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख बान की मून की उपस्थिति में दक्षिण अमेरिका में पहली बार हो रहे खेलों की शुरुआत की घोषणा की। टेमर ने कहा, ‘मैं रियो ओलिंपिक और आधुनिक युग के 31वें ओलिंपिक खेलों की शुरुआत की घोषणा करता हूं।’ मरकाना स्टेडियम से रियो का आकाश आतिशबाजी से नहा रहा था और ऐसे भव्य समारोह में टेमर की घोषणा के साथ साथ प्रतियोगिता की आधिकारिक शुरुआत भी हो गई.
उद्घाटन समारोह में इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी के अध्‍यक्ष थॉमस बाक ने कहा कि ‘हम सभी इस पल का इंतज़ार कर रहे थे. सभी ब्राजील वासियों को इस रात बहुत गर्व महसूस हो रहा होगा.’ इसके साथ ही उन्‍होंने खेलों के आयोजन के लिए ब्राजील की जमकर सराहना भी की. वहीं, रियो 2016 आयोजन समिति के चेयरमैन कार्लोस आर्थर नुज़मन ने खेलों के महाकुंभ में हिस्‍सा लेने आए खिलाडि़यों का स्‍वागत किया. उन्‍होंने कहा कि ‘ओलिंपिक का सपना अब एक अद्भुत वास्तविकता है. ब्राजील खुली बांहों के साथ पूरी दुनिया का स्‍वागत करता है. मैं बेहद गौरवपूर्ण महसूस कर रहा हूं. मैं दुनिया के बेहतरीन एथलीटों के बारे में बात करते हुए गर्व महसूस कर रहा हूं.’

loading...