लम्बी नाटक के बाद एमाले भी प्रधानन्यायाधीश पर सहमत । शीतलनिवास वैठक अनिर्णित । ….अपडेट

काठमाडू, ५ फागुण । राजनीतिक सङ्कट समाधान के लिये प्रधान न्यायाधीश के नेतृत्व मे चुनावी सरकार गठन करने के लिये सहमति जुटाने के सम्बन्ध मे राष्ट्रपति भवन शीतलनिवास मे मधेशी मोर्चा सहित प्रमुख चार दलों का बैठक कल्ह २ बजे फिर से बुलाइ गइ है । चार प्रमुख दलों से २-२ सदस्य रखकर कार्यदल बनाइ गइ है । आज और कोइ निर्णय नही हो सका । बैठक प्रधानन्यायाधीश के नेतृत्व मे चुनावी सरकार गठन के विषय मे केन्द्रित था ।लेकिन इस पर कोई निर्णय नही होसका ।   ….अपडेट

आखिरकार नेकपा एमाले ने प्रधानन्यायधिस के नेतृत्व मे चुनावी सरकार गठन का रास्ता खोल दिया है ।
उसके लिये स्थायी समिति की बैठक ने सहमति मे बाधक नही बनने का निर्णय करके केन्द्रीय समिति मे प्रस्ताव पेश किया था। बैठक ने सहमति के लिये बाधक नही होने का कहकर बाबुराम भट्टराई के नेतृत्व वाली सरकार को बहिर्गमन करने के लिये किसी भी विकल्प मे जाने को तयार रहने का निर्णय किया है। इसकी जानकारी उपाध्यक्ष विद्यादेवि भण्डारी ने दी है ।
उन्होने बैठक ने दलिय सहमति के आधार पर ही पार्टी आगे बढ्ने का निर्णय करने की जानकारी दी है ।
आज हुइ केन्द्रीय कमिटि की बैठक मे केन्द्रीय सदस्यों का बोलने का क्रम समाप्त होने के बाद प्रस्ताव लाने की जिम्मेवारी स्थायी समिति को दिया था ।
केन्द्रीय सदस्यों ने शक्ति पृथकिकरण, अन्तर्राष्ट्रीय प्रचलन अनुसार प्रधानन्यायधिस को राजिनामा दिलाने काने अडान राखा था । आज के बैठक मे प्रधानन्यायधिस के नेतृत्व के विपक्ष मे रहनेवाले महासचिव ईश्वर पोख्रेल नेतृत्व दवाव मे प्रस्ताव को माओवादी के ही ईच्छा अनुसार अनुमोदन होने की सम्भावना को देखकर अनुपस्थित रहे  ।
एमाले के औपचारिक निर्णय के बाद राष्ट्रपति भवन मे प्रमुख चार दलों का बैठक करके इसका अनुमोदन किया जायेगा । बैठक के लिये एमाओवादी, नेपाली काग्रेस और मधेसी दल के नेता चार बजे से ही शिलत निवास मे हैं ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: