ललितपुर के एक युवती को बलत्कार के बाद हत्या का प्रयास, पढ़िये घटना पूरी कहानी

काठमांडू | मंसिर पहले हप्ते विवाहित युवती को एक समुह ने सामूहिक बलत्कार के बाद हत्या का प्रयास किया था |  फरार रहते आ रहे ३ ब्यक्तिओ को पुलिस ने गिरफ्तार किया है । गत मंसिर २ गते अफिस से घर जाते समय उस समुह मे संंलग्न लोगों ने ललितपुर मे युवती का सामूहिक बलत्कार करने का प्रयास किया था | युवती द्वारा प्रतिकार करने पर हत्या  करने का प्रयास उनलोगो ने किया । ४ हप्ते पहले मंसिर २ गते गोदावरी नगरपालिका को बाँडेगाउँ मे २१ वर्षिय युवती को उस समु हने ही बलत्कार के बाद हत्या का प्रयास किया था यह पुलिस के अनुसन्धान से पता चला है । बलत्कार के बाद हत्या के प्रयास करने की घटना मे पीडित युवती के पति के कुछ साथीयो की संलग्नता रहने की बात पुलिस ने जानकारी दी है  ।

गिरफ्तार होने मे पवन कुँवर, बिशालध्वज कार्की और रघु सिलवाल है । पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गये तीनो लोगो को शुक्रबार महानगरीय पुलिस परिसर ललितपुर ने जर्बजस्ती करणी और ज्यान मार्ने उद्योग मुद्दा अन्र्तगत कारबाही आगे बढाया है | ललितपुर परिसर के प्रवक्ता डिएसपी नरेन्द्र चन्द ने जानकारी दी है । उन्होने शुक्रबार ही उनलोगो को न्यायलय मे पेश कर के मुद्दा प्रक्रिया आघे बढायेगे ऐसा बताया । पीडित पक्ष ने बलत्कार ही हुआ ऐसा किटान कर के  दिए जाहेरी के आधार मे उनलोगो को पुलिस ने गिरफ्तार किया है ।

इस तरह हुई घटना

मंसिर २ गते साम करिब पौन सात बजे बाँडेगाउँ के बस स्टेसन मे बस से उतर कर घर जाते समय रास्ते मे रहे उस समुह के युवाओ ने युवती कोे सडक से धकेल कर झाँड मे पहुँचया। युवती ने अपने बचाव के लिए चिल्लाई भी मगर उनकी आवाज किसे के कानो तक नही पहुँची , क्यु की चिल्लाने पर उस समुह के एक युवक ने हात से मुह दबा दिया , ओर दुसरे युवक बलत्कार के प्रयास करने लगे । बलत्कार के प्रयास करने पर उसके विरुद्ध युुवती ने प्रतिकार करने की कोेशिस की । मगर प्रतिकार करने के लिए उठे हात कोे देख कर फिर से समुह के ही एक युवक ने उनके शिर मे पत्थर मारा । यो पुरी कहनी युवती ने आफ्ने ही जुवान से पुलिस को सुनाई । गिरफ्तार हुए लोग दारु और लागूऔषध के नसे में थे । गिरफ्तार हुए लोगो ने ही सुरु मे बलत्कार किया और बाद मे हत्या करने पर तुल गए पीडित युवती ने पुलिस समक्ष ऐसी बायन दी । देर रात घर नआने पर परिवार ने युवती की खोज तलास सुरु की । फोन भी न लग्ने पर पुलिस को भी जानकारी देते हुए परिवार युवती की खोज तलास सुरु की । खोज तलास के क्रम मे दुसरे दिन मंसिर ३ गते सुबह सडक के निचे उनको बेहोस अवस्थामे पाये । कपडा फटा हुआ था ओर साथ ही युवती अर्धनग्न अवस्थामे थी । पुरे शरिर मे चोटोका दागम बना था । एक हप्ते तक युवती मानसिक रुपमे विक्षिप्त थी । एक हप्ते के बाद युवती को पूर्ण रुप मे होस आया था । अभितक युवती अस्पताल मे ही है उनके परिवारिक स्रोत ने जानकारी दी है। महानगरीय अपराध महाशाखाने करिबन चार हप्ते लगा कर घटना की वास्तविकता पत्ता लगाया ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
%d bloggers like this: