लहान की भूमि आज भी आन्दोलनमय,स्थानीय लोगों में उत्साह

l2.png2मनोज बनैता, लहान ४भाद्र । संयुक्त मधेशी मोर्चा द्वारा की गई अनिश्चितकालीन आम हड़ताल के एक सप्ताह के बाद भी मधेश पूर्णरूप से बन्द है । लहान में आम हड़ताल के सर्मथन में नागरिक समाज और विभिन्न पेशागत कर्मचारियाें की उल्लेखनीय उपस्थिति देखी गयी है । लहान में कुल दो संघर्ष समिति गठन की गई है एक मधेशी दल सम्मिलित और दूसरा स्वतन्त्र यूवा संघर्ष समिति । हलाँकी दोनाें समिति का उदेश्य एक है पर युवा समिति कुछ ज्यादा क्रियाशील दिखाई दे रही है । लहान नगरवासी दोनो समिति को तहेदिल से भावनात्मक और आर्थिक सहयोग दे रही है । कुछ लोग दोनाें समिति को नरम दल और गरम दल कहके भी सम्वोधन कर रहे हैं ।

आज एक आयोजित सभा को संवोधित करते हुए मिशन मधेश का केन्द्रीय अध्यक्ष एवं नेपाल पत्रकार महासंघ सिरहा के निवर्तमान अध्यक्ष दिनेश्वर प्र. गुप्ता ने कहा कि मधेश आन्दोलन को एक नयी ऊँचाई में ले जाना ही सही अर्थ में शहिदाें के लिए श्रद्वान्जली होगी । उन्होंने सम्पूर्ण मधेशी पुलिस को मधेश आन्दोलन प्रति मौन सर्मथन जताने की अपील की साथ ही भारदह में मधेशियों पर गोली न चलाने की वजह से कार्यवाही में पडेÞ ३ मधेशी पुलिस को एक सच्चा मधेशीपुत्र के नाम से सम्वोधन किया । गुप्ता ने राष्ट्रीय मिडिया प्रति अपना आक्रोश जताते हुए बोले कि इस देश का कथित राष्ट्रीय मीडिया खसवादी शासक का गुलाम है इसलिए मधेश आन्दोलन का कोई भी समाचार संम्प्रेशन नहीं करती है । अन्त में वे सम्पूर्ण सिरहाबासी को आन्दोलन में अपना सहभागिता जताने की अपील की । वो बोले ‘अभी नहीं तो कभी नही’ उन्होंने सिरहा के पत्रकार बन्धुओं को भी अपनी अपनी जगह से मधेश आन्दोलन की सफलता हेतु काम करने की शुभकामना दी ।

l1.png1उसी तरह नेपाल पत्रकार महासंघ सिरहा को वर्तमान सचिव जीवछ उदासी यादव ने आन्दोलन मे एक्यवधता जताते हुवे कहा कि ये आन्दोलन अब किसी भी सूरत पर नहीं रुकेगी । मधेश मुक्ति का ये आन्दोलन अपना लक्ष्य भेदन करके ही दम लेगी । शीर्ष दलाें को धोखेवाज की संज्ञा देते हुए वो बोले कि पहाड़ी खस अहंकारवादी सत्ता संचालक ने मधेश की पहचान मिटाने का दुष्प्रयास किया है । उन दलाें का ये नापाक कदम की जितनी निन्दा की जाये कम है । जीता जागता मधेश को टुकड़ा टुकड़ा करके निर्जीव बनाने कि कोशिश हुई है । उन्होंने अन्त में कहा कि ए संविधान सभा कौरव सभा है अब पाण्डवरुपि मधेशियाें को कौरव से गिन गिन के बदला लेना है । इसी तरह से सदभावना के केन्द्रीय सदस्य भरत साह, राजु गुप्ता, विजय गुप्ता ने मधेश स्वतन्त्रता के पक्ष में भाषण दिया ।

Loading...

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: